Breaking News

ट्विटर पर भड़के ट्रंप, सोशल मीडिया कंपनियों के खिलाफ ला सकते हैं कार्यकारी आदेश

ट्विटर के फैक्ट चैक पर भड़के अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप सोशल मीडिया कंपनियों के खिलाफ  कार्यकारी आदेश जारी कर सकते हैं. गुरुवार को इस बारे में व्हाइट हाउस की प्रेस सेक्रेटरी केली मैकनेनी ने रिपोर्टर्स को जानकारी दी.

मैकनेनी ने ये नहीं बताया कि वो आदेश किस तरह का होगा, लेकिन ऐसा लग रहा है कि राष्ट्रपति ट्रंप ने अमेरिका की टेक कंपनियों के खिलाफ  जंग छेड़ दी है. जानकारी के अनुसार ट्रंप फ्रीडम ऑफ  स्पीच और बढ़ती गलत जानकारियों के बीच एक बैलेंस बनाना चाहते हैं.

बताया जा रहा है कि पूरे मामले की शुरुआत उस वक्त हुई, जब ट्विटर ने ट्रंप के दो ट्वीट का फैक्ट चेक किया. एक ट्वीट में गलत तरीके से दावा किया गया था कि मेल इन बैलेट्स की वजह से बड़े पैमाने पर वोटर्स फ्रॉड करते हैं. इस फैक्ट चेक पर ट्रंप ने तुरंत सख्त प्रतिक्रिया दी.

उन्होंने सोशल मीडिया कंपनी को धमकाते हुए कहा कि वो उस पर सेंशरशिप लागू कर सकते हैं. उन्होंने यहां तक चेतावनी दी कि अगर उन्होंने उनके संदेशों पर सवाल उठाने की कोशिश कि तो वो फेडरल गवर्नमेंट के अधिकारों का इस्तेमाल करके कंपनी को बंद करवा सकते हैं.

अभी तक ये पता नहीं चल पाया है कि ट्रंप अपने कार्यकारी आदेश के जरिए सोशल मीडिया पर किस तरह की पाबंदी लगा सकते हैं. लेकिन ये साफ  है कि उन्होंने सिलिकॉन वैली के खिलाफ  जंग छेड़ दी है. उनका मानना है कि जिस पर वो भरोसा करते हैं, उसके लिए लड़ाई जायज है.

अब तक ट्रंप ये दिखाने की कोशिश करते आए हैं कि मीडिया का ताकतवर तबका उनके खिलाफ एकजुट हो गया है. ऐसे में सिर्फ उनकी आवाज पर ही उनके समर्थक भरोसा कर सकते हैं.

ट्रंप के सोशल मीडिया की रणनीति बनाने वाले जेसन मिलर ने कहा है कि इस खेल में बाजी ट्रंप के हाथ में है. उन्होंने ट्रंप को एक बड़ा तोहफा दे दिया है. जेसन मिलर ने ही 2016 के कैंपेन में ट्रंप के कम्युनिकेशन डायरेक्टर थे.

बुधवार को ट्रंप के कुछ सहयोगियों ने भी इस पर उनका बचाव किया. फ्लोरिडा के रिपब्लिकन और ट्रंप के भरोसेमंद मैट गेट्स ने कहा है कि ट्विटर 2020 के चुनाव को प्रभावित करने की कोशिश में लगा है. वो राजनीतिक मसले में अपनी नाक घुसेड़ रहे हैं.

मैट गेट्स ने कहा है कि वो गलत लोगों को आउटसोर्स कर फैक्ट चेक करवा रहे हैं. ये अपमानजनक है. ट्रंप के ट्विटर पर पोस्ट किए गए ट्वीट की उनके पूरे राजनीतिक करियर में विश्लेषण होता रहा है. ट्रंप ट्विटर का खुलकर इस्तेमाल करते रहे हैं.

About Aditya Jaiswal

Check Also

कराची में आतंकियों की आत्मघाती साजिश नाकाम, निशाने पर थी वैन; बाल-बाल बचे जापान के पांच नागरिक

पाकिस्तान आजकल आतंकवादियों के निशाने पर है। यहां आए दिन हमले हो रहे हैं। कभी ...