Breaking News

विश्व बंध्याकरण दिन: समुदाय एवं पालतू कुत्तों के लिए आयोजित किया गया बंध्याकरण अभियान

लखनऊ। ह्यूमेन सोसायटी इंटरनेशनल (इंडिया) के द्वारा लखनऊ के इंदिरा नगर में स्थित संस्थान के पशु जन्म नियंत्रण सेन्टर पर विश्व बंध्याकरण दिन के उपलक्ष्य में निःशुल्क बंध्याकरण और टीकाकरण कैम्प का आयोजन किया गया। यह कैम्प मुख्य रूप से अपने इलाके के गली के कुत्तों की देखभाल तथा पशु जन्म नियंत्रण को प्रोत्साहित कर रहे समुदाय के कार्यरत सदस्यों को ध्यान में रखकर लगाया गया था। क्योंकि पशु जन्म नियंत्रण कुत्तों की बढ़ती आबादी को कम करने का एक कारगर उपाय है। इस कैम्प में करीब 94 कुत्तों का बंध्याकरण और 97 कुत्तों का रेबिस टीकाकरण किया गया।

एच.एस.आई. (इन्डिया) के द्वारा आधुनिक मानवीय उपकरण और तरीकों से प्रशिक्षित अनुभवी पशु चिकित्सक तथा पशु कल्याण अधिकारिओं की सुविधा इस कैम्प में की गई थी। विश्व बंध्याकरण दिन के उपलक्ष्य में संस्था द्वारा लखनऊ और देहरादून में भी इसी तरह के कैम्प का आयोजन किया गया। कम्पेनियन एनिमल्स एन्ड एंगेजमेंट फॉर एच.एस.आई. (इन्डिया) के डायरेक्टर केरन नेज़रेथ ने बताया कि, “बड़ौदा, देहरादून और लखनऊ में ऐसे कई दयाशील और करुणावान लोग हैं जो उनकी गली के कुत्तों की खूब देखभाल करते हैं।

दूसरे, अपने इलाके के कुत्तों की आबादी को प्रभावी रूप से नियंत्रित करने के लिए समुदाय के कुत्तों का बंध्याकरण और टीकाकरण करने का विश्व बंध्याकरण दिन से ज़्यादा अच्छा दिन और कौनसा हो सकता है। कुत्ते की आबादी का प्रशासन मानव और कुत्तों के बीच की टकरावपूर्ण घटनाओं को कम करने में भी मददगार साबित होगा। हम बड़ौदा के निवासिओं को प्रोत्साहित करते हैं कि वे आगे बढ़कर अधिक से अधिक गली के कुत्तों को पूरे वर्ष में बंध्याकरण और टीकाकरण के लिए ले कर आएं।”

Loading...

उत्तराखंड के देहरादून और नैनिताल, गुजरात के बड़ौदा तथा उत्तर प्रदेश के लखनऊ शहर में समूह बंध्याकरण और रेबिस टीकाकरण प्रोजेक्ट एच.एस.आई. (इन्डिया) द्वारा लागू किया जा रहा है। भारत में यह काम 2013 से शुरू होने के बावजूद देशभर के कई शहरों में करीब 1,50,000 कुत्तों का बंध्याकरण और टीकाकरण किया जा चुका है।

Loading...

About Samar Saleel

Check Also

अखिलेश हिन्दुत्व के सहारे करेंगे यूपी में वापसी!

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें गौरतलब हो, समाजवादी पार्टी की तुष्टिकरण की सियासत ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *