Bulandshahar violence : इंस्‍पेक्‍टर सुबोध की हत्‍या में फौजी का नाम सामने आया!

बुलंदशहर हिंसा Bulandshahar violence में शहीद इंस्‍पेक्‍टर सुबोध कुमार सिंह की हत्‍या के मामले में नया एंगल सामने आया है। मेरठ जोन के आईजी राम कुमार के मुताबिक कुछ गांव वालों के बयान लिए गए थे जिसके बाद महाव गांव के जीतेंद्र उर्फ़ जीतू नाम के फौजी का नाम गोली मारने में सामने आया है। जीतू जम्मू-कश्मीर के कारगिल में तैनात है। जीतू को लेने के लिए पुलिस टीम जम्मू गयी है जिससे पूछताछ के बाद ही साफ़ होगा कि गोली उसने चलाई या नहीं किसी अन्य ने चलायी। फ़िलहाल पुलिस टीम शक के आधार पर जीतू को लाने के लिए जम्‍मू गई है।

Inspector के हत्यारोपी ने वीडियो वायरल कर दी सफाई

पुलिस की एक टीम ने घर में तोड़-फोड़

गौरतलब है कि सोमवार को बुलंदशहर के स्याना कोतवाली क्षेत्र के चिंगरावठी में कथित गौकशी की खबर के बाद भड़की हिंसा के दौरान इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह और एक युवक सुमित की हत्या कर दी गई थी।

उधर जीतेंद्र के परिजनों ने बताया कि पुलिस की एक टीम ने उनके घर आकर तोड़-फोड़ की है। परिजनों के मुताबिक उनके बेट का नाम गांव के कुछ लोगों ने रंजिशन लिया गया है। जीतू की मां रत्नकौर ने बताया कि उनके घर का सामान पूरी तरह से पुलिस वालों ने नष्ट कर दिया है। जीतू 20 दिन की छुट्टी अपने घर महाव आया था।

बुलन्दशहर की तरह जल रहा है पूरा प्रदेश : Sanjay Singh

आरोपी योगेश राज SIT की जांच के बाद 

बुलंदशहर हिंसा के मामले में गठित विशेष जांच दल (एसआईटी) की जांच में एसटीएफ भी उसकी मदद कर रही है। अपर पुलिस महानिदेशक (अभिसूचना) मामले की जांच कर राजधानी वापस आ गये हैं और अपनी रिपोर्ट जल्द ही उच्चाधिकारियों को सौंप देंगे। इससे पहले आईजी (अपराध) एस के भगत ने बृहस्पतिवार की शाम पत्रकार वार्ता के दौरान बताया था कि आईजी मेरठ के नेतृत्व में चार सदस्यीय एसआईटी टीम ने जांच का काम शुरू कर दिया है। टीम वीडियो फुटेज का बारीकी से निरीक्षण कर रही है ताकि यह पता लगाया जा सके कि हिंसा में कौन-कौन लोग शामिल थे।

मुख्य आरोपी योगेश राज के बारे में पूछने पर उन्होंने जवाब दिया था कि उसका नाम एफआईआर में तो है लेकिन वह मुख्य आरोपी है या नहीं इसका पता एसआईटी की जांच के बाद ही लगेगा। आईजी (अपराध) ने साफ किया कि एफएसएल अधिकारीयों के मुताबिक इंस्पेक्टर सुबोध कुमार और सुमित की हत्या .32 बोर की गोली से हुई है। जो एक ही रिवाल्वर से चली है या अलग-अलग रिवाल्वर से इसका पता एफएसएल की रिपोर्ट आने के बाद ही चलेगा।

Non-human घटना से बुलंदशहर हिला : डॉ. मसूद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *