175 साल की हुई Ice-Cream

Ice-Cream का इतिहास बहुत ही दिलचस्प है। समय समय पर कई देशों या व्यक्तियों ने इसका आविष्कार करने का दावा किया है। लेकिन एक रिपोर्ट के मुताबिक, पहली बार आधिकारिक तौर पर फिलाडेल्फिया की नैन्सी एम जॉनसन ने आज ही के दिन आइसक्रीम बनाने वाली मशीन का पेटेंट कराया था।

आर्टिफीसियल फ्रीजर नाम की मशीन : Ice-Cream

‘अल्मनाक डॉट कॉम’ की रिपोर्ट की माने तो 9 सितंबर 1843को ‘आर्टिफीसियल फ्रीजर’ नाम की मशीन में एक टब, सिलेंडर, ढक्कन, डैशर और क्रैंक लगा के आइसक्रीम बनाई थी। गौरतलब है की आज भी आइसक्रीम बनाने के लिए ज्यादातर इसी मशीन का इस्तेमाल किया जाता है।

फल, शहद के मिश्रण से तैयार

आइसक्रीम का इतिहास बहुत ही पुराना है। इसे करीब 54 ईसवी से खाना शुरू कर दिया गया था।आइसक्रीम रोमन सम्राट नीरो के प्रमुख व्यजंनों में से एक थी। उनके आइसक्रीम को फल, शहद और अनेक चीजों के मिश्रण से तैयार किया जाता था। हालांकि, इस बात में कितनी सच्चाई है, ये आज तक पता नहीं चल पाया है।

चीनी राजा भी करते हैं दावा

रोमन के अलावा चीन के राजा भी आइसक्रीम के आविष्कार के लिए अपना दावा करते हैं। कहा जाता है कि 618 ईसवी में राजवंश के संस्थापक, चीन में स्थित शांग के राजा तांग ने आइसक्रीम बनवाने के लिए 94 ऐसे पकवान रखे थे। ये बर्फ तोड़कर राजा के लिए सिर्फ आइसक्रीम ही बनाते थे। आइसक्रीम राजा तांग के सबसे खास व्यंजनों में से एक थी। उसे स्वादिस्ट बनाने के लिए उसमें कई खास चीजों का मिश्रण किया जाता था।

हालांकि, रोमन सम्राट के दावे की तरह चीन के राजा के दावे की भी पुष्टि आज तक नहीं हो पाई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *