Mehul Choksi की ED ने अटैच की 1217 करोड़ की संपत्ति

पंजाब नेशनल बैंक घोटाले में संलिप्त Mehul Choksi की 1217 करोड़ संपत्ति को ईडी ने अटैच किया है। अब तक ईडी ने हजारों करोड़ रुपयों के महाघोटाले के आरोपी मेहुल चोकसी की 41 अचल संपत्तियों को अटैच कर दिया है। ये संपत्त्यिां पीएलएमए के तहत अटैच की गई हैं। इसमें मुंबई में स्थित 15 फ्लैट और 17 ऑफिस हैं, कोलकाता स्थित शॉपिंग मॉल और अलीबाग में चार एकड़ जमीन पर बना फार्महाउस भी शामिल है। इन संपत्तियों के अतिरिक्त अलीबाग, नासिक, नागपुर, पनवेल व विल्लुपुरम में 231 एकड़ जमीन में फैले छह पार्सल अटैच किये गये और आंध्र प्रदेश के रंगारेड्डी जिले में 170 एकड़ में फैला एक हार्डवेयर पार्क शामिल है, जिसकी कीमत 500 करोड़ रुपये है।

Mehul Choksi के खिलाफ ब्यूरो ऑफ इमीग्रेशन ने जारी की लुकआउट नोटिस

इससे पहले सीबीआई ने पंजाब नेशनल बैंक में हुए फर्जीवाड़े और महाघोटाले के मामले में बैंक के इंटरनल चीफ ऑडिटर एमके शर्मा को भी गिरफ्तार किया था। वहीं मुख्य घोटालेबाज नीरवमोदी और मेहुल चोकसी के खिलाफ आयकर विभाग के अनुरोध पर ब्यूरो ऑफ इमीग्रेशन ने अलग-अलग लुकआउट नोटिस पहले ही जारी कर दी है। पीएनबी बैंक में 11,360 करोड़ रुपये के महाघोटाले को लेकर एक ओर जहां विपक्ष निशाना साध रहा है।

  • वहीं ये घोटाला यूपीए सरकार सरकार में हुआ।
  • यही नहीं यूपीए सरकार में इसके अलावा और भी कई घोटले हुए हैं।
  • जिनकी पोल एक एक कर खुलकर सामने आ रही है और दोषी देश छोड़कर भाग रहे हैं।
  • वहीं मोदी सरकार का कहना है कि आरोपियों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जायेगा।

घोटालों पर लगाम लगाने के लिए नया कानून ला सकती है मोदी सरकार

पीएनबी महाघोटालों पर लगाम लगाने के लिए मोदी सरकार नया कानून ला सकती है। जिसके अंतर्गत बैंक देनदारों पर 100 करोड़ से ज्यादा के बकाया होने पर उनकी संपत्ति कुर्क की जायेगी।

  • गुरुवार को होने वाली कैबिनेट बैठक में इस मामले पर चर्चा होनी है।
  • इस बैठक में ऐसा कानून बनाने पर फैसला हो सकता है।
  • इस कानून को अंतिम रूप देकर निर्णय किया जा सकता है।

About Samar Saleel

Check Also

लम्बे समय से बीमार चल रहे पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का 66 साल की उम्र में निधन

पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का शनिवार को दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *