आज के दौर में बच्चों को काउन्सिलिंग की जरूरत : Dr. DK Verma

लखनऊ। सोसायटी ऑफ कॅरियर टेक्नोलॉजी (SOCT) के तत्वाधान में आज यहां प्रेस क्लब में शिक्षा एवं रोजगार के क्षेत्र में कोचिंग एवं प्रषिक्षण संस्थानों की भूमिका एवं सहभागिता विषय पर परिचर्चा हुई। परिचर्चा में कोचिंग एवं प्रशिक्षण संस्थानों में बच्चों के भविष्य की लकीरें,सफल लोगों के बजाय असफल छात्रों के प्रति बढ़ती जिम्मेदारियों जैसे विषयों पर विस्तृत चर्चा हुई। ताकि ऐसे छात्रों के लिये विशेष रूप से तनाव एवं कॅरियर काउन्सिलिंग करने के साथ-साथ उन्हें निराशा के भाव से निकल कर आगे बढ़ाया जा सके।

कोचिंग एवं प्रशिक्षण केन्द्र की भूमिका अहम : डॉ. डी0के0 वर्मा

परिचर्चा के दौरान मुख्य वक्ता कौशल विकास मिशन उत्तर प्रदेश के उपनिदेशक एवं कॅरियर काऊन्सलर डॉ. डी0के0 वर्मा ने कहा कि आज के दौर में बच्चों एवं युवाओं पर बढ़ते शिक्षा एवं कॅरियर के दबाव को देखते हुये हर स्तर पर काउन्सिलिंग की जरूरत है,और इसमें कोचिंग एवं प्रशिक्षण केन्द्र की भूमिका अहम हो सकती है। कोचिंग संस्थानों को लेकर श्री वर्मा ने कहा कि वह सिर्फ शिक्षण संस्थान की भूमिका ही नहीं निभाते बल्कि वह एक समाज का हिस्सा भी है।

नई पीढ़ी को सही शिक्षा एवं प्रशिक्षण देने की

विशिष्ट वक्ता एवं काउन्सलर डॉ. अगम दयाल ने कहा कि आज के समय की मांग है कि सभी पारम्परिक शिक्षण एवं प्रशिक्षण संस्थान प्रतियोगी परीक्षाओं की ट्रेनिंग देने वाले संस्थान एवं कोचिंग संस्थान एकसाथ जुड़कर नई पीढ़ी को सही शिक्षा एवं प्रशिक्षण देने की व्यवस्था करें।

वर्तमान शिक्षा पद्धति युवा पीढ़ी की अपेक्षाओं पर

एनआरटी इण्डिया के अखिलेश्वर पाण्डेय ने इस मौके पर कहा कि वर्तमान शिक्षा पद्धति युवा पीढ़ी की अपेक्षाओं पर खरी नहीं उतर पा रही है अतः इसमें आमूल चूल परिवर्तन की आवष्यकता है।

इससे पहले विन्देश्वरी तिवारी के संचालन में परिचर्चा का शुभारम्भ संस्था के महासचिव पंकज तिवारी ने सोसायटी ऑफ कॅरियर टेक्नोलॉजी सोक्ट की गतिविधियों की प्रस्तुति के साथ किया। परिचर्चा के दौरान वीएनडी की नीरजा श्रीवास्तवा, कोटा स्टडी फोरम के अभिषेक जायसवाल, ध्रुव ट्यूटोरियल के आलोक उपाध्याय, विवेक श्रीवास्तव, लखनऊ जनविकास महासभा के अध्यक्ष एस.के. बाजपेई, रमेश प्रसाद अवस्थी(एडवोकेट),रिंकू पाण्डेय, अ0भा0 गौ रक्षा महासंघ के कलीम भारतीय, राम किशन साहू सहित कई लोग मौजूद थे।

About Samar Saleel

Check Also

इलाहाबाद हाईकोर्ट का बड़ा फैसला, UP में अब DJ बजाया तो होगी 5 साल की कैद

बढ़ते ध्वनि प्रदूषण को लेकर इलाहाबाद हाईकोर्ट ने बुधवार को बड़ा फैसला सुनाया है। कोर्ट ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *