Breaking News

बिधूना के भिखरा गांव में फैला डेंगू, स्वास्थ्य विभाग की टीम ने 60 लोगों को दवा वितरण की, तीन लोगों की जांच में हुई डेंगू की पुष्टि

बिधूना। विकास खण्ड के ग्राम भिखरा गांव में गंदगी और बारिश के चलते डेंगू का प्रकोप फैल गया है। जिससे गांव में हड़कम्प मच गया। जानकारी होते ही स्वास्थ्य विभाग की टीम ने गांव में पहुंचकर करीब 60 लोगों को वितरित की। इसके अलावा प्राइवेट तौर पर कई मरीजों द्वारा करायी गयी जांच में उन्हें डेंगू पाया गया है।

जानकारी के अनुसार भिखरा में बारिश एवं नालियों व गलियों में भरी गंदगी के चलते गांव में अचानक वायरल फीवर का प्रकोप देखने को मिला है। गांव में फीवर से पीड़ित मरीज पिछले दो दिनों से कस्बा के चिकित्सकों से प्राइवेट इलाज करा रहे थे। इसी दौरान गांव में गुरूवार को अचानक मरीजों में हुई वृद्धि के चलते एवं कुछ मरीजों की करायी गयी जांच में उन्हें डेंगू के लक्षण पाये जाने से गांव में हड़कम्प मच गया। भिखरा गांव में वायरल फीवर एवं डेंगू के फैलने की जानकारी होते ही सीएचसी अधीक्षक द्वारा डा. मनीष त्रिपाठी के नेतृत्व में स्वास्थ्य विभाग की टीम गांव भेजी गयी। टीम ने गांव पहुंचकर करीब 60 मरीजों को फीवर से संबंधित दवा वितरित की है।

इन्हें वितरित की गयी दवा – गांव में पहुंची स्वास्थ्य टीम ने जांच के बाद पूतना देवी, रामू, कृष्णा देवी, शिखा, शिवानी, राजवती, करन सिंह, खुशी, शशांक, विनय, रघुराज, प्रतीक, रानी देवी आदि को दवा वितरित की। वहीं ग्रामीणों का आरोप है कि स्वास्थ्य विभाग की टीम ने बिना किसी जांच के वायरल फीवर की दवा का वितरण कर दिया। टीम ने दवा के नाम पर सिर्फ गोलियां बांटकर अपने कर्तव्य को पूरा कर रहा है।

जांच में इन्हें निकला डेंगू – बिधूना में प्राइेवेट इलाज करा रही प्रज्ञा व कृष्णा देवी के अलावा कानपुर इलाज करा रहे चंदन को जांच में जांच में डेंगू पीड़ित पाया गया हैं।

ग्रामीणों ने टीम पर लगाए आरोप- कृष्णा देवी ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा हमें कोई दवा नहीं दी गई। स्वास्थ्य विभाग की टीम तो आई थी। लेकिन जब तक हम दवा लेने गये तब तक टीम चली गई थी। वहीं गोविंद ने बताया कि मेरी माताजी बीमार है। स्वास्थ्य की टीम आई पर बिना दवा दिए ही वापस चली गई।

अधीक्षक ने बताया भेजी गयी टीम – सीएचसी अधीक्षक डा. सिद्धार्थ वर्मा ने बताया कि जानकारी होते ही गांव में स्वास्थ्य टीम भेजी गयी है। जो मरीजों की जांच के साथ उन्हें दवा वितरित कर रही है। साथ ही बताया कि ग्राम प्रधान को एंटी लारवा दवा दे दी गयी है जिससे उसका गांव में छिड़काव कराया जा सके।

रिपोर्ट – संदीप राठौर चुनमुन/राहुल तिवारी

About Samar Saleel

Check Also

लखनऊ विश्वविद्यालय के 06 छात्रों का 4 लाख प्रतिवर्ष के पैकेज पर हुआ प्लेसमेंट

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें लखनऊ विश्वविद्यालय के इंजीनियरिंग संकाय के प्लेसमेंट सेल ...