किसानों का चक्का जाम: दिल्ली-एनसीआर में सुरक्षाबल के 50,000 जवान तैनात, मेट्रो स्टेशन अलर्ट

कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के देशव्यापी चक्का जाम आंदोलन को देखते हुए दिल्ली और एनसीआर में सुरक्षा चाक-चौबंद कर दी गई है. गणतंत्र दिवस के मौके पर किसानों की ट्रैक्टर रैली के दौरान हुई हिंसक घटनाओं के बाद पुलिस अलर्ट मोड पर है.

आज दोपहर 12 बजे से लेकर 3 बजे तक किसान देशभर के राष्ट्रीय राजमार्ग और स्टेट हाईवे पर गाड़ियों का चक्का जाम करने वाले हैं. दिल्ली, यूपी और उत्तराखंड पर हालांकि इस आंदोलन का असर नहीं पड़ेगा, लेकिन पुलिस किसी भी तरह की स्थिति से निपटने के लिए पहले से तैयार है.

एएनआई रिपोर्ट के मुताबिक दिल्ली और एनसीआर के इलाके में दिल्ली पुलिस, पैरा मिलिट्री फोर्स के जवान और केंद्रीय रिजर्व फोर्स के जवानों को बड़ी तादाद में विभिन्न स्थानों पर तैनात किया गया है.

हिंसक घटनाओं की आशंका के मद्देनजर दिल्ली के 12 मेट्रो स्टेशनों को भी अलर्ट मोड पर रहने को कहा गया है. दिल्ली पुलिस ने इन मेट्रो स्टेशनों को इस बात के लिए तैयार रहने को कहा है कि किसी भी तरह की घटना होने पर इन स्टेशनों की एंट्री और एग्जिट को तत्काल बंद किया जाए.

इससे पहले दिल्ली में आज सुबह से ही लाल किला और अन्य संवेदनशील स्थानों पर पुलिस की तैनाती की गई है. लाल किले के आसपास बड़ी संख्या में सुरक्षाबल तैनात हैं. दिल्ली के सिंघू, गाजीपुर और टिकरी बॉर्डर पर किसानों को रोकने के लिए पुलिस के इंतजामों के बीच किसान नेताओं ने कुछ दिन पहले ही 6 फरवरी को देशव्यापी चक्का जाम आंदोलन का ऐलान किया था. इसको देखते हुए दिल्ली पुलिस किसी भी तरह की स्थिति से निपटने के लिए तैयार है.

About Aditya Jaiswal

Check Also

वर्तमान और भविष्य में हिंदी का स्वरूप व स्थान

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें जिस देश की माटी में हम पल बढ़कर ...