Breaking News

लखनऊ के अंतरार्ष्ट्रीय हवाई अड्डे पर कोरोना वायरस का मरीज मिलने के बाद लोगो ने उसके साथ किया ये

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के चौधरी चरण सिंह अंतरार्ष्ट्रीय हवाई अड्डे पर मंगलवार को कोरोना वायरस के एक संदिग्ध मरीज की पहचान की गई, जिसे आनन-फानन में यहां लोकबंधु अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया। अस्पताल के निदेशक डॉ डीएस नेगी ने बताया, ‘फैजाबाद के रुदौली निवासी युवक सऊदी से आया था।

चौधरी चरण सिंह अंतरार्ष्ट्रीय हवाई अड्डे पर जांच के दौरान युवक में कोरोना वायरस के संदिग्ध लक्षण मिले, जिसे लोकबंधु अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया। सैंपल कलेक्शन कर जांच के लिए केजीएमयू भेजा जाएगा। केंद्रीय टीम निरीक्षण भी कर चुकी है।’

उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य विभाग ने हाई अलर्ट जारी किया है। प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह ने प्रदेश के सभी मुख्य चिकित्सा अधिकारियों से कहा है कि कोरोना वायरस को लेकर प्रत्येक जिला चिकित्सालय में बेड सुरक्षित रखे जाएं। इसके साथ ही उन्होंने अस्पतालों को कोरोनावायरस से निपटने के लिए तमाम उपकरण भी तैयार रखने के निदेर्श दिए हैं।

लखनऊ के मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) डॉ नरेंद्र अग्रवाल ने कहा, ‘सरकार कोरोनावायरस को लेकर पूरी तरह सतर्क है। अंतरार्ष्ट्रीय हवाईअड्डे पर 24 घंटे चिकित्सकों की टीम तैनात है। लखनऊ में कुल 71 बेड भी विभिन्न अस्पतालों में सुरक्षित रखे गए हैं।’ उन्होंने कहा कि प्रदेश में अभी तक कोई भी करोनावायरस का पॉजिटिव केस नहीं मिला है।

बीते दिन राजधानी के हवाईअड्डे पर पांच शहरवासी भूटान से लौटे। इन यात्रियों की थर्मल स्कैनर से जांच की गई। इसके बाद कोरोनावायरस जांच के लिए सैंपल लिया गया। लैब टेस्ट में सभी की रिपोर्ट नेगेटिव आई। हालांकि, सतर्कता के चलते सभी यात्रियों को 15 दिनों तक घर में आइसोलेट रहने की सलाह दी गई।

About News Room lko

Check Also

बांदा में तमंचा दिखा कर महिला से किया रेप , जाने हैरान कर देने वाली पूरी खबर

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें बांदा में तमंचा दिखा कर महिला से रेप ...