Breaking News

पं० जगदीश नारायण मिश्र की 19वीं पुण्यतिथि पर “स्मृति सभा और प्रेरक सम्मान-2023” का आयोजन

लखनऊ। समाजसेवी, शिक्षाविद् एवं पत्रकार पं० जगदीश नारायण मिश्र की 19वीं पुण्यतिथि के अवसर पर यूपी प्रेस क्लब लखनऊ में स्मृति सभा और प्रेरक सम्मान-2023 का आयोजन किया गया। इस अवसर पर वरिष्ठ पत्रकार प्रेम कान्त तिवारी और वरिष्ठ रंगकर्मी ललित सिंह पोखरिया को प्रेरक सम्मान-2023 से नवाजा गया, इसके साथ ही प्रेरक युवा सम्मान-2023 से वरिष्ठ पत्रकार आशीष मिश्र और शिक्षाविद् एवं पत्रकार पीयूष कुमार मिश्र को सम्मानित किया गया। इस मौके पर सन्- 2023 का कैलेण्डर भी रिलीज किया गया। इस बार के कैलेण्डर की थीम थी, कोविड से बचाव- सजगता ही सफलता है।

भावनाओं से खिलवाड़ के विरुद्ध साल 2023 के पहले ही दिन बड़ा आंदोलन

प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने कार्यक्रम हेतु भेजे गये अपने संदेश में, सम्मान प्राप्त लोगो को शुभकामनायें देते हुए कहा कि पं० जगदीश नारायण मिश्र सामाजिक और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़े सघर्षशील कार्यकर्ता थे। पत्रकार के रुप में उन्होने कई समाचार पत्रों में अहम योगदान किया। मुझे विश्वास है कि स्मृति सभा में पं. जगदीश नारायण मिश्र के व्यक्तित्व और कृतित्व से नई पीढ़ी को अवगत होने का अवसर प्राप्त होगा।

इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रुप में मौजूद राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के वरिष्ठ प्रचारक और अटल जी के सहयोगी वीरेश्वर द्विवेदी ने कहा कि स्व. मिश्र जी का जीवन हम सभी को त्याग और समर्पण की सीख देता है, उन्होने शिक्षा पत्रकारिता और समाज के हर क्षेत्र में अपनी जिम्मेदारियों का निःस्वार्थ निर्वहन करते हुए विशेष मुकाम हासिल किया। भाजपा के वरिष्ठ नेता व पूर्व मंत्री रमापति शास्त्री ने कहा कि जगदीश जी कुशल संगठनकर्ता और सभी के हितों को निरन्तर सर्वोपरि रखने वाले व्यक्ति थे।

फिल्मी पठान : अब्दुल रहमान से बादशाह खान तक

पूर्व विधान परिषद सदस्य जयप्रकाश चतुर्वेदी ने कहा कि मिश्र जी बेहद आशावादी थे, वह आसपास के लोगों में भी कभी निराशा का भाव नही आने देते थे। पूर्व विधायक सुरेश चन्द्र तिवारी ने कहा कि आचार्य जी (मिश्र जी) ने बचपन से ही हम लोगों को जनसेवा के कार्य में अपना सर्वस्व समर्पित करने के लिए प्रेरित किया। लखनऊ बार के अध्यक्ष सुरेश पांडे ने इस प्रकार केआयोजनों को परम्पराओं के प्रसार और व्यक्ति के सामाजिक योगदान के प्रति कृतज्ञता ज्ञापित करने का अवसर बताया।

राष्ट्रधर्म प्रकाशन के निदेशक सर्वेश चन्द्र द्विवेदी ने जगदीश जी के सात्विक जीवन और सैद्धान्तिक पत्रकारिता का जिक्र किया। सूचना विभाग के ओएसडी राजेश राय ने मिश्र जी से जुड़े बेहद मार्मिक संस्मरणों का जिक्र करते हुए उन्हें हर कार्यकर्ता का अभिभावक बताया। शिक्षाविद धर्मेंद्र राय ने मिश्र जी के संस्मरणों को साझा करते हुए उनके शैक्षिक योगदान को अतुलनीय बताया।

माघ मेला : संगम रेती पर 6 जनवरी से शुरू होगा मेला, जानें सरकार की तैयारियां

कार्यक्रम में प्रमुख रुप से सीता मिश्रा, पूर्व आईएफएस कमलेश पाण्डेय, पंकज अवस्थी, सांत्वाना, प्रशान्त त्रिवेदी, कपिल तिलहरी, अभिषेक दीक्षित सहित कई गणमान्य लोग मौजूद रहे। इस अवसर पर मास्क वितरित कर लोगो को कोविड के प्रति जागरुक किया गया। कार्यक्रम का संचालन शरद जगदीश मिश्र द्वारा किया गया।

About Samar Saleel

Check Also

वाराणसी स्टेशन को आदर्श स्टेशन के रूप में रेलमंत्री राजभाषा शील्ड तथा पुरस्कार के लिए चयनित

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें लखनऊ। राजभाषा हिंदी के प्रयोग व प्रसार को ...