श्रद्धालुओं के लिये खुला सबरीमाला मंदिर, एक दिन में 250 लोग ही कर सकेंगे दर्शन

कोरोना वायरस महामारी के कारण छह महीने से अधिक समय तक बंद रहने के बाद प्रसिद्ध अयप्पा मंदिर को शनिवार सुबह श्रद्धालुओं के लिए खोल दिया गया और कुछ लोगों ने दर्शन भी किये जो मास्क पहने थे और कोविड-19 नहीं होने संबंधी जांच रिपोर्ट साथ में लिए हुए थे.

इससे पहले मंदिर को मासिक पूजा के लिए शुक्रवार शाम को खोला गया था, लेकिन श्रद्धालुओं को शनिवार को मलयाली महीने तुलम के पहले दिन से मंदिर में दर्शन की अनुमति दी गयी है. श्रद्धालु 21 अक्टूबर तक मंदिर में पूजा-अर्चना कर सकेंगे.

Loading...

जिन श्रद्धालुओं के पास कोविड-19 की निगेटिव जांच रिपोर्ट नहीं है, उन्हें निलक्कल में रैपिड एंटीजन जांच करानी होगी. देश में 25 मार्च को लॉकडाउन लगने के बाद से पहली बार मंदिर में श्रद्धालुओं को दर्शन की अनुमति दी गयी है. मंदिर का प्रबंधन देखने वाले त्रावणकोर देवस्वोम बोर्ड के सूत्रों ने बताया कि मंदिर को सुबह पांच बजे खोला गया. शनिवार को दर्शन के लिए डिजिटल प्रणाली के माध्यम से 246 लोगों ने बुकिंग कराई. हर दिन केवल 250 लोगों को मंदिर में दर्शन की अनुमति दी जाएगी.

दर्शन की अनुमति 10 से 60 वर्ष की आयु के उन लोगों को ही मिलेगी जिनके पास इस बात के चिकित्सा प्रमाणपत्र होंगे कि वे पवित्र पहाड़ी पर स्थित मंदिर तक जाने के लिहाज से स्वस्थ हैं. महामारी के कारण श्रद्धालुओं को सन्निधानम, निलक्कल या पांबा में ठहरने की अनुमति नहीं है.

Loading...

About Aditya Jaiswal

Check Also

शुगर, टीबी, हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों पर बरती जाए विशेष सावधानी: हेमंत राव

औरैया। आज कलेक्ट्रेट सभागार में जनपद के नोडल अधिकारी अपर मुख्य सचिव हेमंत राव ने ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *