Breaking News

समर्पण और जुनून से ही मिलेंगी ऊंचाइयां : सुधा सिंह

नए साल से महीने में 2 दिन बच्चों को ट्रेनिंग देने खुद आऊंगी
आचार्य महावीर प्रसाद द्विवेदी स्मृति संरक्षण अभियान के रजत जयंती वर्ष पर हो रहे हैं 11 तरह के खेल

रायबरेली। आचार्य महावीर प्रसाद द्विवेदी स्मृति स्कूल ओलंपियाड गुरुवार से स्थानीय मोतीलाल नेहरू स्टेडियम में शुरू हो गया। ओलंपियाड का उद्घाटन अर्जुन पुरस्कार प्राप्त अंतरराष्ट्रीय एथलीट पद्मश्री सुधा सिंह ने किया। उद्घाटन के बाद उन्होंने प्रतिभागी बच्चों से मुलाकात कर सुंदर भविष्य के लिए शुभकामनाएं दीं।

उन्होंने कहा कि हार-जीत की चिंता के बिना प्रतियोगिता में प्रतिभाग करें। खेल के प्रति समर्पण और जुनून ही हमें ऊंचाइयों पर ले जाता है। आज खेलों के प्रति बच्चों और युवाओं की रुचि बढ़ रही है। पहले इतनी जागरुकता नहीं थी। स्टेडियम न होता तो वह इतनी ऊंचाई तक न पहुंच पातीं। अभिभावकों से बच्चों की खेल रुचि को बढ़ावा देने का अनुरोध करते हुए उन्होंने कहा कि मैराथन की तैयारियों के बीच वह खुद नए साल के जनवरी माह से महीने में 2 दिन यहां के बच्चों को ट्रेनिंग देने के लिए आएंगी।

इसके पहले सुधा सिंह के स्कूल राजकीय बालिका इंटर कॉलेज के पूर्व प्रधानाचार्य सुश्री विमला वर्मा और प्रथम खेल शिक्षिका रहीं श्रीमती माला श्रीवास्तव ने सुधा की तारीफ करते हुए सभी बच्चों को सफलता की शुभकामनाएं दीं। जिला क्रीड़ा अधिकारी सर्वेंद्र सिंह चौहान ने खेल विभाग की विभिन्न योजनाओं की जानकारी देते हुए कहा कि अब सरकार ने खिलाड़ियों के लिए सरकारी नौकरियों के ज्यादा दरवाजे खोल दिए हैं। जिला क्षय रोग अधिकारी डॉ अनुपम सिंह ने भी बच्चों को प्रेरित किया। समिति के ओलंपयाड की शुरुआत मां सरस्वती और आचार्य जी के चित्र के समक्ष दीप प्रज्वलन और माल्यार्पण के साथ हुई।

40 स्कूलों के डेढ़ हजार बच्चे कर रहे प्रतिभाग

स्कूल ओलंपियाड में जिले भर के 40 स्कूलों के करीब डेढ़ हजार बच्चे प्रतिभाग कर रहे हैं। ओलपियाड में 11 तरह के खेलों-कबड्डी, रस्साकशी, बैडमिंटन, ताइक्वांडो, कैरम, शतरंज, आर्म रेसलिंग, एथलेटिक फुटबॉल, तैराकी और शूटिंग की प्रतिस्पर्धाएं हो रही हैं। स्टेडियम में बच्चों का मेला सा लगा रहा। सुधा सिंह ने विभिन्न खेल संपन्न कराने वाले ऑफिशियल्स को गुलाब का फूल देकर सम्मानित भी किया। इसके बाद मुंह पर की बात करने वाले बच्चों के बीच भी गईं और और सभी को अच्छे प्रदर्शन के लिए शुभकामनाएं दीं।

सुधा के साथ सेल्फी और फोटो की होड़

लंबे समय बाद जनपद की अंतरराष्ट्रीय असली पद्मश्री सम्मान से सम्मानित सुधा सिंह को अपने बीच पाकर सभी में सेल्फी और फोटो खिंचवाने की होड़ लगी रही। प्रतियोगिताओं में प्रतिभाग करने आए बच्चों ने खूब फोटो और सेल्फी खींची। सुधा सिंह ने भी किसी को निराश नहीं किया। सभी से खूब घुली-मिलीं और बातें कहीं। करीब एक घंटे तक वह बच्चों के बीच में ही रहीं।

बुके और प्रतीक चिन्ह देकर स्वागत-अभिनंदन

समिति के अध्यक्ष विनोद शुक्ला, विनय द्विवेदी, अनिल मिश्र, खेल संयोजक मुन्ना लाल साहू, हिमांशु तिवारी, डॉ. अमिता खुबेले, राजीव भार्गव, आलोक सिंह, पुष्पेंद्र सिंह गांधी, प्रशांत पांडे, क्षमता मिश्रा, प्रफुल्ल पाठक, समाजसेवी महेंद्र अग्रवाल, व्यापारी नेता अतुल गुप्ता, गुरजीत तनेजा, महेश प्रताप सिंह, डॉ रवि प्रताप सिंह, करुणा शंकर मिश्रा, विक्रम सिंह, नीलेश मिश्रा, श्रीमती रेनू शुक्ला, रामबाबू मिश्रा, अनुपमा रावत, पूजा धीमान, रजनी सक्सेना आदि ने सुधा सिंह समेत सभी अतिथियों का स्वागत अभिनन्दन किया।

रिपोर्ट-दुर्गेश मिश्रा 

About Samar Saleel

Check Also

विजय दशमी का संदेश

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें विजय दशमी का महत्व असत्य और अधर्म प्रवृत्ति ...