Breaking News

विहिप कार्यकर्ता अपने दायित्व का निर्वहन करें- आलोक कुमार 

अयोध्या। रामजन्म भूमि पर मंदिर निर्माण का अभियान पूर्ण हुआ। श्री राम जन्म भूमि मंदिर के संचालन, चढावे में विहिप की जिम्मेदारी नही है। यह सारा कार्य श्रीराम जन्म भूमि तीर्थ क्षेत्र देखेगा। उक्त बातें विहिप कार्याध्यक्ष आलोक कुमार ने अयोध्या में पत्रकार वार्ता में कही।

‘वनतारा’ अनंत अंबानी के दिल के करीब कार्यक्रम है जो अंतरराष्ट्रीय संरक्षण कार्यक्रम में करेगा सहयोग

अयोध्या में विश्व हिन्दू परिषद के प्रन्यासी मंडल एवं प्रबंध समिति की तीन दिवसीय बैठक चल रही है। उन्होंने बैठक में पास दो प्रस्ताव के बारे में जानकारी दी। श्रीराम मंदिर का निर्माण अब राम राज्य की ओर तथा राष्ट्र हित में मतदान करें -मतदान शत प्रतिशत हो का प्रस्ताव पास किया गया गया है।

विहिप कार्यकर्ता अपने दायित्व का निर्वहन करें- आलोक कुमार 

उन्होंने कहा कि राम मंदिर निर्माण का कार्य र्निविध्न पूर्ण हुआ। हमने कल्पना की थी की पांच लाख स्थानों पर प्राण प्रतिष्ठा का कार्यक्रम दिखाया जाएगा। लेकिन जो रिर्पोट आई उसके अनुसार 55 देशों के 7 लाख स्थानों पर 9 करोड़ लोगों ने सामूहिक रूप से यह कार्यक्रम देखा।

कोई ऐसी कालोनी, बाजार व गांव नही था जो सजा न हो जहां रोशनी न की गई हो। यह अभियान पूर्ण हुआ अब राम राज्य की ओर चलना है। राम मंदिर से रामराज्य की यात्रा आरंभ हो गई है। नए युग के निर्माण का उत्तरदायित्व हिन्दू समाज को स्वीकार करना होगा और स्वंय को उसके लिए तैयार करना होगा।

नए संघर्ष विराम के लिए बंधक समझौते पर बन सकती है सहमति, US ने कहा- फिलहाल बातचीत जारी

उन्होंने आगे कहा कि भारत लोकतंत्र की जननी है। चुनाव लोकतंत्र का त्योहार है। विहिप कार्यकर्ता अपने दायित्व का निर्वहन करेंगे। जो वोटर बन सकते है वह वोटर बनें। शत प्रतिशत मतदान करें। व्यवस्थित मतदान करें।

निजी स्वार्थ, जातिगत, अभिनिवेश, भाषावाद, सम्प्रदायवाद व क्षेत्रवाद आदि भेदभावों को छोड़कर राष्ट्रहित तथा हिन्दु हित में मतदान अवश्य करें। उन्होंने बताया कि बैठक में उक्त दोनों प्रस्ताव पास किए गए हैं। 27 फरवरी को बैठक समाप्त होगी।

रिपोर्ट-जय प्रकाश सिंह 

About Samar Saleel

Check Also

घटा सरयू का जलस्तर, खतरे के निशान से तीन सेमी नीचे पहुंचा पानी, नाव से स्कूल जाना शुरू हुए बच्चे

सरयू खतरे के निशान से तीन सेमी नीचे पहुंच गई है। जलस्तर तो घट रहा ...