Breaking News

पूर्व चेयरमैन की मौत का मामला : कार व चालक के खिलाफ गैर इरादतन हत्या के प्रयास में मुकदमा दर्ज

औरैया। शुक्रवार को हादसे का शिकार हुए पूर्व चेयरमैन धर्मेश चन्द्र दुबे की बाइक में टक्कर मारने वाली कार व उसके चालक के खिलाफ रविवार को थाना दिबियापुर में गैर इरादतन हत्या व हत्या के प्रयास जैसी गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया गया है। रविवार को ही घटना का वीडियो वायरल होने के बाद से लोगों में घटना के प्रति खासा आक्रोश भी देखने मिला है।

पूर्व चेयरमैन की मौत का मामला : कार व चालक के खिलाफ गैर इरादतन हत्या के प्रयास में मुकदमा दर्ज

नगर पालिका परिषद औरैया के पहले चेयरमैन एवं सुभाष विचार मंच के संरक्षक धर्मेश चन्द्र दुबे एडवोकेट साथी अधिवक्ता अंजनी दीक्षित के साथ शुक्रवार को किसी काम से कलेक्ट्रेट मुख्यालय ककोर गये थे। जहां से वह करीब 12:45 बजे औरैया के लिए चले। बाइक अंजनी दीक्षित चला रहे थे जबकि पूर्व चेयरमैन धर्मेश दुबे पीछे बैठे थे।

उनकी बाइक मुख्यालय गेट से बाहर निकली ही थी कि विकास भवन की ओर से आ रही मारूति कार ने बाइक में सीधे टक्कर मार दी थी। जिससे पूर्व चेयरमैन धर्मेश दुबे गंभीर रूप से व बाइक चला रहे अंजनी दीक्षित मामूली रूप घायल हो गए थे। पूर्व चेयरमैन को गंभीर हालत में उपचार हेतु कानपुर ले जाते समय रास्ते में उनकी मृत्यु हो गई थी। शनिवार को यमुना नदी के शेरगढ़ घाट पर हजारों नम आंखों के बीच गमगीन माहौल में पूर्व चेयरमैन दुबे का अंतिम संस्कार किया गया था।

साथी अधिवक्ता ने दर्ज कराई प्राथमिकी – साथी अधिवक्ता अंजनी कुमार दीक्षित ने रविवार को थाना दिबियापुर पहुंच कर कर व उसके चालक के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराया है। जिसके उन्होंने बताया कि शुक्रवार को समय लगभग 12:45 बजे मैं अपनी मोटरसाइकिल से पूर्व चेयरमैन धर्मेश चन्द्र द्विवेदी को साथ लेकर जैसे ही कलेक्ट्रेट गेट ककोर के बाहर आ रहा था कि तभी विकास भवन की ओर से आ रही मारुती कार जिसका नम्बर यूपी-35 बीएच 7850 बहुत तेजी से आयी और उसने जान से मारने के लिए हमारी मोटर साइकिल में टक्कर मार दी। जिससे हम दोनों लोग मोटरसाइकिल सहित अलग-अलग सड़क पर गिरे और टक्कर मारने वाली कार तेजी से दक्षिण ओर चली गयी।

बताया कि हेलमेट लगाये होने के कारण मुझे कम चोटे आयी परन्तु पूर्व चेयरमैन दुबे के सर मे गम्भीर चोट आयी। जिन्हें इलाज के लिये सौ शैया अस्पताल चिचोली लाया गया। जहां से डाक्टर ने कानपुर के लिये रिफर कर दिया और कानपुर अस्पताल पहुंचने के पूर्व ही उनकी मृत्यु हो गयी और अस्पताल में डाक्टर ने मृत कर दिया।

वैमनस्यता रखने वालों का हो सकता है हाथ –

अधिवक्ता दीक्षित द्वारा दर्ज करायी गयी रिपोर्ट में कहा गया है कि इस घटना को अंजाम देने में पूर्व चेयरमैन दुबे के परिवार से वैमनस्यता रखने वाले कुछ लोगों का भी हाथ हो सकता है। इस घटना को सीसीटीवी में भी देखा गया है। इसके अलावा इस घटना को मेरे अलावा दिनेश चन्द्र द्विवेदी व रिपुसूदन दीक्षित आदि ने देखा था। कहा कि शनिवार को सभी लोग पूर्व चेयरमैन दुबे के अंतिम संस्कार में व्यस्त होने के कारण प्रार्थना-पत्र नहीं दे पाये और मृत्यु के दुख में उस समय मात्र सूचना अंकित करा दी थी।

पुलिस ने धारा 307 व 304 में दर्ज किया मुकदमा –

अधिवक्ता अंजनी दीक्षित निवासी कस्बा खानपुर की तहरीर के आधार पर पुलिस ने गैर इरादतन हत्या व हत्या के प्रयास में मुकदमा दर्ज कर लिया है।

About reporter

Check Also

आज़मगढ़ चुनाव : निरहुआ की जीत से नए स्थानीय राजनीतिक समीकरण आये सामने

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें Published by- @MrAnshulGaurav Sunday, June 26, 2022 लखनऊ। आजमगढ ...