Breaking News

सरकार ने 11 भाषाओं में लॉन्च किया AarogyaSetu एप, कोरोना से लड़ने में करेगा मदद

भारत सरकार ने देश के लोगों को COVID-19 के खिलाफ लड़ाई में एक साथ लाने के लिए पब्लिक-प्राइवेट साझेदारी में देवेलप्ड AarogyaSetu एप लॉन्च किया. ये मोबाइल एप हर भारतीय के स्वास्थ्य और कल्याण के लिए डिजिटल इंडिया में शामिल किया गया है.

ये एप कोरोना वायरस के संक्रमण के जोखिम का आकलन करने में लोगों को सक्षम करेगा. ये एप लेटेस्ट ब्लूटूथ टेक्नोलॉजी, एल्गोरिदम और आर्टिफीशियल इंटेलिजेंस का इस्तेमाल करते हुए, दूसरों के साथ उनकी बातचीत के आधार पर काउंटिंग करेगा. एक बार यूजर्स के स्मार्ट फोन में इंस्टाल होने के बाद, एप दूसरे डिवाइसेज का पता लगाता है जिसमें AarogyaSetu इंस्टॉल किया गया है जो उस फोन के आसपास मौजूद हैं.

AarogyaSetu एप COVID-19 संक्रमण के फैलाव के जोखिम का आकलन करने और जहां आवश्यक हो, अलगाव सुनिश्चित करने के लिए सरकार को समय पर जरूरी कदम उठाने में मदद करेगी. एप की डिजाइन प्राइवेसी पहले सुनिश्चित करता है. एप में कलेक्ट किए गए पर्सनल डेटा को लेटेस्ट तकनीक का उपयोग करके एन्क्रिप्ट किया गया है और मेडिकल इंटरवेंशन की सुविधा के लिए डेटा फोन पर ही सेफ रहता है.

ये एप 11 भाषाओं में उपलब्ध है. एप अखिल भारतीय उपयोग के लिए तैयार है और इसमें स्केलेबल आर्किटेक्चर है. यह एप राष्ट्र की युवा प्रतिभा के एक साथ आने, संसाधनों, पूलिंग और वैश्विक संकट का जवाब देने के प्रयासों का एक अनूठा उदाहरण है.

गौरतलब है कि भारत में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ते ही जा रहे हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय के आकड़ों के मुताबिक, पिछले 12 घंटे में देश में कोरोना संक्रमण के नए 131 मामले सामने आए हैं. देश में अब तक क्या आंकड़ा 1965 पहुंच गया है. इसमें से 151 लोग ठीक हो चुके हैं यानी ऐक्टिव केस 1764 हैं. अब तक 50 लोगों की कोरोना की वजह से जान जा चुकी है.

About Aditya Jaiswal

Check Also

एशिया आर्थिक संवाद में जुटे 11 देशों के नीति निर्माता और उद्योग विशेषज्ञ

विदेश मंत्रालय और पुणे इंटरनेशनल सेंटर की ओर से गुरुवार को यहां एशिया आर्थिक संवाद ...