Breaking News

अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस पर छात्राओं को उनके मूल अधिकारों के प्रति किया जागरूक

औरैया। जनपद के सहार में स्थित उत्तर माध्यमिक विद्यालय अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस पर छात्राओं को उनके मूल अधिकारों के प्रति जागरूक किया गया।

अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस कार्यक्रम के अवसर बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की प्रदेश की सहसंयोजिका मंजू सिंह ने कहा कि केंद्र सरकार ने बालिकाओं को सशक्त बनाने के लिए कई पहल की हैं, जिनका मकसद मुख्य रूप से उन्हें बेहतर शिक्षा और स्वास्थ्य सेवा मुहैया कराना तथा लैंगिक संवेदनशीलता में सुधार को बढ़ावा देना है। श्रीमती सिंह ने कहा कि देश में लड़कियों के प्रति भेदभाव मिटाने उन्हें शिक्षा के प्रति जागरूक करना है।

बेटियां समाज में कितनी महत्वपूर्ण है किसी ने सच कहा है कि बेटियां न हो तो परिवार परिवार नही और समाज एक जंगल की तरह दिखाई देगा।
श्रीमती मंजू सिंह ने कहा कि आज लड़कियां किसी भी क्षेत्र में लड़कों से कम नहीं है। इसी के साथ उन्होंने कहा कि किसी भी छात्रा को किसी लड़के या व्यक्ति द्वारा परेशान किया जाता है तो वह छात्रा वुमन पावर हेल्पलाइन नंबर 1090 पर कॉल करके अपनी शिकायत दर्ज करा सकती है।

वही खंड शिक्षा अधिकारी कृपा शंकर यादव ने कहा कि जिन छात्राओं को सुमंगला योजना का लाभ नहीं मिल रहा है वह छात्राएं अपना रजिस्ट्रेशन करवा ले। इस योजना के तहत कक्षा 1 में प्रवेश लेने पर ₹2000 की धनराशि प्राप्त होती है। कक्षा 6 में प्रवेश लेने पर भी 2000 रुपए की धनराशि प्राप्त होती है।

प्रधानाध्यापक संध्या शर्मा ने बताया कि बेटी होना हम सब के लिए गर्व की बात है क्योंकि देश की आधी आबादी एक बेटी ही परिवार व समाज बनाती है। यदि वह कलम उठा ले तो इतिहास बदल सकती है और कदम उठा ले तो भविष्य बना सकती हैं। हमें ऐसे कार्य करने चाहिए जिससे हम दूसरों को भी सही दिशा दे सके। हमारी आवाज ही हमारा भविष्य है। इस मौके पर विनोद तिवारी, मोनू भदौरिया, संदीप सिंह प्रधानाध्यापक संध्या शर्मा, तकनीकी सहायक विक्रांत पोरवाल व छात्र-छात्राओं की अभिभावक गण मौजूद रहे।

रिपोर्ट-शिव प्रताप सिंह सेंगर

About Samar Saleel

Check Also

नशीली फैंसीडिल सिरफ़ बरामद दो अभियुक्त गिरफ्तार

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें चंदौली। पीडीडीयू नगर अपर पुलिस महानिदेशक रेलवे उप्र ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *