Breaking News

एक देश एक चुनाव लोकतांत्रिक मर्यादा नहीं तानाशाही है : सुनील सिंह

• वन नेशन वन इलेक्शन पर लोकदल की प्रतिक्रिया

• एक देश एक चुनाव राष्ट्र हित के लिए सही नहीं है या भारत के संविधान के खिलाफ है- सुनील सिंह

लखनऊ। वन नेशन वन इलेक्शन पर लोकदल के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी सुनील सिंह ने कहा है एक देश एक चुनाव देश के हित में नहीं है संविधान को बहुत ही सोच विचार के साथ बनाया गया है। एक चुनाव को देश के संगी ढांचे के विपरीत और संसदीय लोकतंत्र के लिए घातक कदम बताया है एक साथ चुनाव को संविधान की मूल संरचना पर हमला बताया है।

👉शाहीन के खिलाफ फेल हुए रोहित-कोहली, मैच देखने पहुंचे जय शाह; तस्वीरों में देखें मुकाबले का रोमांच

सुनील सिंह ने कहा है कि अगर लोकसभा और राज्यों की विधानसभा के चुनाव को एक साथ करवाया गया तो राष्ट्रीय मुद्दों के सामने क्षेत्रीय मुद्दे गायब हो जाएंगे। इस चुनाव को कराए जाने से निरंकुशता की आशंका बढ़ जाएगी। जनता के प्रति जवाब दे ही तय नहीं हो पाएगी। क्योंकि अलग-अलग समय पर चुनाव कराए जाने के कारण जनप्रतिनिधियों को जवाब देही तय होती है।

एक देश एक चुनाव लोकतांत्रिक मर्यादा नहीं तानाशाही है : सुनील सिंह

लोकसभा चुनाव राष्ट्रीय मुद्दों पर होते हैं और यदि ये मुद्दे राज्यों के मुद्दों पर हावी हो जाएंगे तो इससे राज्यो को नुकसान होगा। राज्यों के चुनाव होने से केंद्र सरकार पर असर होता है। श्री सिंह ने कहा है कि कोई भी पार्टी या नेता एक चुनाव जीतने के बाद निरंकुश होकर काम नहीं कर सकता है। उन्होंने कहा है कि इस चुनाव को कराए जाने का कोई औचित्य नहीं है। एक बार चुने जाने के बाद सरकार निरंकुश होकर कार्य करने लगेगी।

👉भारत के 100 रन पूरे, चार विकेट गिरने के बाद ईशान किशन और हार्दिक पांड्या ने संभाला मोर्चा

लोकतंत्र में मूल भावना में राज्यों का चुनाव होता है तो सरकार लोकहित में कार्य करती है। केंद्र में जो हो रहा है, लोग परेशान हो गए हैं और लोग तंग आ चुके हैं। वन नेशन-वन इलेक्शन चुनाव के दौरान लाकर सरकार मुद्दों को डायवर्ट करने की कोशिश कर रही है। वन नेशन वन इलेक्शन को सरकार का नया षड्यंत्र बताया है।

About Samar Saleel

Check Also

एलएलबी की परीक्षा में पकड़ा गया मुन्ना भाई, 10 हजार लेकर दे रहा था एग्जाम

अलीगढ़:  अलीगढ़ के श्री वार्ष्णेय कॉलेज में एलएलबी की परीक्षा हो रही थी, जिसमें आंतरिक ...