Breaking News

भगवा देखकर विपक्षी दलों की सरकारों को लग जाता था करंट : डॉ. दिनेश शर्मा

लखनऊ / फतेहपुर। भाजपा की जनविश्वास यात्रा में आज उपमुख्यमंत्री डा दिनेश शर्मा विपक्षी दलों की तुष्टीकरण की नीति पर जमकर बरसे और यहां तक कहा कि भगवा  देखकर उन सरकारों को करंट लग जाता था। उनका कहना था कि  पहले तो विपक्ष के नेता अपनी यात्रा में मंदिर नहीं जाते थे, भजन कीर्तन वालों से दूर रहते थे और  भगवा पहनने वालों को देख लें तो करंट ही लग जाता था। गऊ माता को गऊ माता कहने में भी संकोच होता था  क्योंकि गऊ माता का अपमान करने वालों को तुष्टीकरण जो करना था। भाजपा ने सबका साथ सबका विकास के मंत्र के आधार पर सरकार चलाई है जबकि पिछली सरकारें कुछ विशेष लोगो के तुष्टीकरण में लगी रहती थीं। ऐसी ही एक सरकार ने तो राम भक्त कार सेवकों पर गोली तक चलवाई थी।

कांग्रेस ने तो राम के अस्तित्व को ही नकार दिया था। भाजपा की सरकार भारत की संस्कृति के गौरव को फिर स्थापित कर रही है। आज दीपावली पर अयोध्या में कुछ वैसा ही दृश्य होता है जिसका वर्णन रामायण में किया गया है। विपक्ष पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा कि  साढे चार साल तक क्वारेन्टीन रहने के बाद विपक्ष के नेता एक बार फिर प्रदेश में राजनैतिक पर्यटन यात्रा पर निकल पडे हैं। इस बार यात्रा का स्वरूप बदला हुआ है। कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि पंजे ने लोगों को आपस में लडाने का काम किया है। आर्थिक स्थिति को जर्जर किया है। इसलिए अब पंजे की जरूरत नहीं है। जनविश्वास यात्रा में आयोजित सभा को सम्बेधित करते हुए उन्होंने कहा कि आज सपा बसपा कांग्रेस जैसे तमाम दल यूपी में चक्कर काट रहे हैं।कोरोना काल में जब जनता संकट में थी तब भाई बहन की जोडी यूपी में नहीं दिखाई पडी थी। कोई समाजवादी भी जनता की मदद करते नहीं दिखा था पर भाजपा के लोग जनता की सेवा में लगे हुए थे।  कोरोना जैसे संकट के समय में भी इन्हे जनता  का ध्यान नहीं आया और अब चुनाव आते ही राजनीति की रोटी सेकने की जुगाड में बाहर निकल आए हैं।

डॉ. शर्मा ने कहा कि पिछली सरकारों के समय में  प्रदेश  में अपराध और अपराधियों  का ऐसा बोलबाला था कि उसकी गूंज बाहर के प्रदेशों तक सुनाई देती थी। कोई यूपी में निवेश के लिए आने के बारे में सोंचता तक नहीं था। पुलिस के छापों में अवैध तमंचे बरामद होते थे। यूपी अवैध तमंचों को बनाने के लिए बदनाम था। अब भाजपा की सरकार में नया यूपी बन रहा है जहां तमंचा नहीं बल्कि मिसाइल व राइफल बनाने का कारखाना लग रहा है। पिछली सरकारों के समय में पश्चिमी उत्तर प्रदेश में हालात इस कदर खराब थे कि माताए बहने शाम होने के बाद घरों से निकल नहीं पाती थीं। ऐसा लगता था कि जैसे शांतप्रिय होना अपराध हो गया था । मकान पर कब्जा  हो जाता था और शान्तिप्रिय लोगों को वहां से भागना पडता था। उन सरकारों में गरीबों की जमीन पर भूमाफिया कब्जा कर अपने के लिए मकान बना लेते थे। अब वर्तमान सरकार उन अवैध कब्जों पर बुल्डोजर चलवा रही है तथा उन खाली जमीनों पर गरीबों के लिए मकान बनवा रही है। माफिया को जेल भेजा जा रहा है। आज गरीबों को परेशान करने वालों को सबक सिखाने के लिए उनके काले कारनामों पर बुल्डेाजर चल रहा है। सरकार की प्रथमिकता है कि महिला का सम्मान हो  जबकि पिछली सरकारों में उनके साथ दुव्र्यवहार आम बात थी। आज माफिया माताओं बहनों के साथ दुव्र्यवहार करने की हिमाकत नहीं कर सकते हैं।

डिप्टी सीएम ने कहा कि पीएम मोदी और सीएम योगी का समन्वय यूपी में  विकास के नए आयाम स्थापित कर रहा है। आज प्रदेश में विकास की रेल सरपट दौड रही है। पांच पांच एक्सप्रेस वे, छह स्थानों पर मेट्रो, डिफेन्स कारीडोर नए यूपी की पहचान बन रहे हैं। आज सरकार के कार्यों के आगे पस्त हुआ विपक्ष अब सीएम  योगी ही अनउपयोगी बताने लगा  है। उनका कहना था कि गुन्डे माफिया को संरक्षण देने वालों, महिलाओं का अपमान करने वालों जमीनों पर कब्जा करने वालों  के लिए योगी जी अनउपयोगी हैं। सीएम योगी गरीब, किसान, महिला, नौजवान, व्यापारी के लिए सही मायने में उपयोगी है।

भाजपा की जनविश्वास यात्राओं में उमड रही भारी भीड जगह जगह हो रहे स्वागत को सरकार के कार्यों पर जनता की मुहर बताते हुए उपमुख्यमंत्री ने कहा कि आजादी के बाद देश में पहली बार एक ऐसी सरकार आई है जिसने गरीब और किसान के कल्याण को अपने एजेन्डे में सबसे ऊपर रखकर कार्य किया है। किसान की आमदनी को बढाने की बाते तो तमाम हुई हैं पर असल में इस दिशा में ठोस काम मोदी सरकार ने ही किया है। आज सरकार गरीब को फ्री में राशन देने के साथ ही हर गरीब के घर में शौचालय का निर्माण कराया गया है। गरीब के सिर पर छत के सपने को प्रधानमंत्री आवास से पूरा किया जा रहा है। किसान के खाते में 6000 रुपए किसान सम्मान निधि के पहुच रहे हैं। घर घर बिजली  और गैस का कनेक्शन  भी दिया है। पहले बिजली कनेक्शन के लिए विभाग के चक्कर लगाने पडते थे पर आज अधिकारी गरीब के घर जाकर बिजली का कनेक्शन दे रहे हैं। पहली बार गरीब और किसान को आधार बनाकर प्रदेश के विकास का एजेन्डा तय किया गया है। उन्होंने कहा कि पूर्व की सरकारों में  रामलीला के जुलूस, दुर्गा पूजा आदि के समय तनाव होना परम्परा सी बन गई थी। कांवडियों पर अराजक तत्व पत्थर बरसाते थे। अब प्रदेश बदला है और अब कांवड़ यात्रा पर फूल बरसते हैं। अब बिजली का आना नहीं बल्कि बिजली का जाना खबर बनती है। हर जिले का भरपूर विकास हो रहा है। फतेहपुर में भी सडकों का जाल बिछाया गया है। हर जिले में मेडिकल कालेज की स्थापना की जा रही है और अब लोगों को अपने घर में ही बेहतर उपचार मिलेगा। पूर्व की सरकारों में इस प्रकार से विकास कार्य नहीं हुए क्योकि वे सरकारें ऐसे लोगों के साथ काम कर रही थी जिनका मुख्य काम जमीन पर कब्जा करना और ठेकेदारी करना था।

प्रधानमंत्री मोदी और सीएम योगी की कार्यकर्ता रूपी सेना आज जनता की सेवा में लगी हुई है। जनता की हर जरूरत में केवल भाजपा के लोग ही मदद को आगे आते हैं। वैक्सीन को लेकर  भी विपक्ष ने तमाम प्रकार से दुष्प्रचार किया। इसे भाजपा की वैक्सीन तक कहा गया।  पर आज यहीं वैक्सीन लोगों की जान बचा रही है। कोरोना के प्रकोप को कम कर रही है। कांग्रेस शासित राज्य भी इसकी मांग कर रहे हैं। सरकार मजबूत इरादों के साथ आगे बढी और काम किया है। यूपी की नकल विहीन परीक्षा आज माडल बन गई है। साढे चार साल में 250 माध्यमिक विद्यालय व 12 विश्वविद्यालय बने हैं।आज का उत्तर प्रदेश साम्प्रदायिक दंगों वाला प्रदेश नहीं है। पिछले साढे चार साल में कोई दंगा नहीं हुआ है। कोई अगर दंगा कराएगा तो फिर उसे जेल जाना पडेगा। उन्होंने कहा कि आज जरूरत  एक ऐसी सरकार की है जो  देशहित में काम करे तथा  अराजकता व असामाजिकता  को दूर करे  । इसलिए इस चुनावी यज्ञ में वोट की आहुति केवल कमल के फूल और उसके सहयोगी दलो पर ही डालनी होगी। जन विश्वास यात्रा में केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति, केंद्रीय मंत्री भानु वर्मा, सांसद पुष्पेंद्र सिंह चंदेल, बाबूराम निषाद, विधायक विकास करण सिंह पटेल, कृष्णा पासवान, जय कुमार जैकी, विक्रम सिंह तथा जिला अध्यक्ष आशीष मिश्रा भी उपस्थित थे।

About Samar Saleel

Check Also

फिक्की फ्लो ने दिव्यांगों को पावर लूम भेंट किया

लखनऊ। फिक्की फ्लो लखनऊ चैप्टर ने आज चेतना फाउंडेशन लखनऊ को उपहार स्वरूप दिए गए ...