अर्नब को सबक सिखाने के लिए पुलिस का दुरूपयोग करने पर आमादा महाराष्ट्र सरकार

अर्नब की गिरफ्तारी से दूसरे पत्रकारों को गिरफ्तार करने का रास्ता खुल गया है। यह मानने के कई अहम कारण है कि जब कथित टीआरपी घोटाले से सरकार और पुलिस को मनमानी करने में मुश्किल हुई, तो फिर बंद किए जा चुके पुराने मामले का सहारा लिया गया।

अर्नब की गिरफ्तारी से ज्यादा, आपत्तिजनक उसका तरीका है। क्योंकि महाराष्ट्र सरकार और पुलिस उन्हें सबक सिखाने पर आमादा थी। इसलिए एक पुराने मामले को नए सिरे से जांच के लिए खोला गया और फिर उन्हें एक शातिर गैंगेस्टर की तरह गिरफ्तार कर लिया गया।

इस पुलिसिया कार्रवाई ने यही बताया कि सत्ता में बैठे लोग किसी के पीछे पड़ जाए, तो पुलिस भी उनकी निजी सेना की तरह काम करना पसंद करती है। यह किसी से छिपा नहीं कि महाराष्ट्र सरकार और मुंबई पुलिस एक अरसे से अर्नब से खुन्नस खाए हुए हैं।

Loading...

वह उन्हें और उनके साथियों को हर संभव तरीके से तंग करने में लगी हुई है। इसके लिए ना तो छल-कपट का सहारा लेने से संकोच किया जा रहा है। जिससे आगे चल कर सरकार के साथ पुलिस की भी फजीहत होनी तय है।

शाश्वत तिवारी

Loading...

About Samar Saleel

Check Also

लखनऊ में RML हॉस्पिटल के पास कुछ लोगों ने मिलकर एक शख्स की जमकर की पिटाई, वीडियो वायरल

उत्तर प्रदेश में गुंडाराज खत्म होने का नाम नहीं ले रहा। ताजा घटना राजधानी लखनऊ ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *