Yuva Utkarsh साहित्यिक मंच का अखिल भारतीय साहित्य महोत्सव सम्पन्न

दिल्ली। युवा उत्कर्ष Yuva Utkarsh साहित्यिक मंच ने अपना पंचम अखिल भारतीय साहित्य महोत्सव रविवार को पी.के.रोड, रेलवे अधिकारी क्लब, नई दिल्ली-1 में वरिष्ठ साहित्यकार ,व्यंग्यकार एवं पत्रकार अनूप श्रीवास्तव की अध्यक्षता एवं मुख्य अतिथि वरिष्ठकवि व कथाकार गुरमीत बेदी (उपनिदेशक,जनसंपर्क विभाग, हिमाचल प्रदेश ) की उपस्थिति में आयोजित हुआ।

Yuva Utkarsh साहित्यिक मंच में …

कार्यक्रम में अतिविशिष्ट अतिथि के रूप में वरिष्ठ साहित्यकार एवं समाज सेवी डॉ अशोक मैत्रेय, दिव्या बालजीवन (मॉरिशस), डी.पी.मिश्र (उप निदेशक ,भारत सरकार), डॉ रामकुमार चतुर्वेदी(व्यंग्यकार सिवनी म.प्र ), डा.हरिसिंह पाल, महामंत्री नागरी परिषद् ,दिल्ली एवं वरिष्ठ साहित्यकार दर्शन बेजार के सानिध्य में संपन्न हुआ। सुबह 10 बजे से शाम 6 बजे तक चले इस एक दिवसीय कार्यक्रम में देश के कोने-कोने से आये लगभग दो सौ साहित्यकारों ने इस कार्यक्रम में भाग लिया।

सरस्वती वंदना मंजू वशिष्ठ ने

महोत्सव का शुभारम्भ मंचस्थ अतिथियों द्वारा माँ शारदे की मूर्ति के सम्मुख दीप प्रज्ज्वलित करने के उपरान्त सरस्वती वंदना सरस्वती पुत्री मंजू वशिष्ठ ने अपने मधुर कंठ से की एवं स्वस्तिवाचन डा.पुष्पा जोशी ने किया। तत्पश्चात मिलन सिंह द्वारा रचित मंच के गान का जगदीश भारद्वाज ने संगीतमय प्रस्तुति दी। अतिथियों का स्वागत एवं सम्मान मंच के पदाधिकारियों रामकिशोर उपाध्याय , त्रिभुवन कौल , सुरेशपाल् वर्मा, संजय गिरि ,श्वेताभ पाठक, अकेला इलाहाबादी और ओमप्रकाश शुक्ल द्वारा पौधा, स्मृति चिन्ह एवं शाल देकर किया गया। इसके उपरान्त मंच के महासचिव ओम प्रकाश शुक्ल ने वार्षिक रिपोर्ट प्रस्तुत की और मीडिया प्रभारी संजय कुमार गिरि ने मंच की गत एक वर्ष की साहित्यिक गतिविधियों पर प्रकाश डाला।

आदिकालीन साहित्य की वर्तमान में प्रासंगिकता

इस अवसर पर ‘आदिकालीन साहित्य की वर्तमान में प्रासंगिकता’ पर एक परिचर्चा आयोजित की गई जिसमें विषय प्रवर्तन डा.पुष्पा जोशी, डा अतिराज सिंह, त्रिभवन कौल देश ने अपने विचार व्यक्त किये एवं परिचर्चा का समापन रामकिशोर उपाध्याय ने किया। इस सुअवसर पर मँच की स्मारिका ‘उत्कर्ष की ओर (वार्षिकी 2018 ), डा. दमयन्ती शर्मा के कविता संग्रह ‘भीड़ तो अभी ज़िन्दा है, प्रमिला पाण्डेय के उपन्यास ‘छाहों चाहती छाँह’ सुरेशपाल वर्मा जसाला की पुस्तक सरल छंद विधान (प्रथम ) एवं ट्रूप मीडिया के सुरेशपाल वर्मा जसाला पर केन्द्रित नवम्बर अंक का लोकार्पण उपस्थित सभी गणमान्य अतिथियों द्वारा किया गया। मंच की वेब साईट का लोकार्पण भी किया गया।

भारतेंदु हरिश्चंद सम्मान -2018

युवा उत्कर्ष साहित्यिक मंच ने इस वर्ष का शिखर सम्मान भारतेंदु हरिश्चंद सम्मान -2018 एवं पुरस्कार राशि रू.5100/- प्रख्यात साहित्यकार डा. प्रणव भारती (अहमदाबाद ,गुजरात ) को प्रदान किया। यह सम्मान हर वर्ष साहित्य में अपना विशेष योगदान करने वाले वरिष्ठ साहित्यकार को प्रदान किया जाता है। इस वर्ष (2018) कविता का शिखर सम्मान-महादेवी वर्मा श्रेष्ठ कवयित्री सम्मान-2018 एवं पुरस्कार राशि रू.2100/- मीरा शलभ (गाज़ियाबाद,उ.प्र.) को दिया गया। व्यंग्य में उत्कृष्ट लेखन के लिए व्यंग्यकार एवं आलोचक डा.रमेश तिवारी (बिहार ) को हरिशंकर परसाई सम्मान -2018 एवं पुरस्कार राशि रू.2100/- कथा एवं उपन्यास लेखन के लिए डा.पवन विजय (दिल्ली ) मुंशी प्रेमचंद सम्मान-2018 एवं पुरस्कार राशि रू.2100/-, अमीर खुसरो सम्मान-2018 एवं पुरस्कार राशि रू.2100/- युवा कवि दीपक गोस्वामी चिराग (बहजोई ,उ.प्र.) को प्रदान किये गए।

मंच की संरक्षक की ओर से पांच विशिष्ट व्यक्तियों को मेजर वीरेंद्र सिंह यादव स्मृति सम्मान एवं पुरस्कार राशि रू.2100/- (प्रत्येक ) को प्रदान किये गए। ये सम्मान श्रेष्ठ साहित्य सृजन के लिए मंजु वशिष्ठ, संगीत के लिए जगदीश भारद्वाज, पत्रकारिता के लिए ट्रू मीडिया के संपादक ओम प्रकाश प्रजापति, खेल के लिए गुप्ता एवं ललित कला के क्षेत्र में चित्रकार संजय गिरि को प्रदान किये गये।

शिल्पा श्रीवास्तव (संपादक अट्टहास) को पत्रकारिता के लिए साहित्य कमल, शीर्षक गीत प्रतियोगिता में चयनित तीनों रचनाकारों, हिन्दी के उन्नयन में कार्यरत कई संस्थाओं एवं विशिष्ट लेखन एवं कविता पाठ के लिए अनेक साहित्यकारों को इस अवसर पर प्रशस्ति पत्र प्रदान किये गये।

स्वर्ण कमल -2018

संस्था के संगठन एवं सुचारू सञ्चालन के लिए मंच के महासचिव ओम प्रकाश शुक्ल की अभूतपूर्व सेवाओं के प्रति एक विशेष सम्मान –‘स्वर्ण कमल -2018’ प्रदान किया गया। बाहर से आये सभी कवियों सहित मंचस्थ अतिथियों ने मधुर काव्यपाठ किया। मुख्य अतिथि सहित सभी अतिथियों ने अपने-अपने उद्बोधन में युवा उत्कर्ष साहित्यिक मंच के कार्य की भूरि- भूरि प्रशंसा की।

कार्यक्रम के अंत में युवा उत्कर्ष मंच के अध्यक्ष रामकिशोर उपाध्याय ने सभी अतिथियों एवं कार्यक्रम को सुचारू एवं व्यवस्थित ढंग से चलाने के मंच संचालक श्वेताभ पाठक, महासचिव ओम प्रकाश शुक्ल, कोषाध्यक्ष सुरेश पाल वर्मा जसाला, अकेला इलाहाबादी, संजय गिरि (मीडिया प्रभारी ), जगदीश मीणा (संगठन मंत्री ), त्रिभवन कौल (का.अध्यक्ष ), लता यादव (संरक्षक), प्रशांत विजय(संरक्षक ), डा.रामकुमार चतुर्वेदी (उपाध्यक्ष ) सहित मंच के समस्त सहयोगियों का आभार व्यक्त किया।

-संजय कुमार गिरि

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *