Breaking News

खेती मे नए युग की शुरुआत

लखनऊ- राजधानी मे खेती के नए युग का आगाज हो चुका है । बुधवार खेती किसानी को लेकर राजधानी मे एक कंपनी ने अपना बिगुल बजा दिया है । राजधानी के विकास नगर थानाक्षेत्र मे स्वीकृति एग्रो प्रोड्यूसर कंपनी लिमिटेड नामक कंपनी खेती के नए युग के आरंभ होने का दावा कर रही है । कंपनी के सीएमडी सुधीर कुमार मलिक ने बताया की गरीबी की दंश से किसान रोज़ आत्महत्या कर रहे है जो एक गंभीर व चिंता का विषय है , किसानों की सुविधाए सिर्फ कागजों मे सिमट कर रह गयी है । इस मुद्दे पर हर किसी को गहन विचार करना चाहिए । अगर किसानों को बेहतर तकनीक व सुझाव दिया जाए तो खेती से मोटी कमाई हो सकती है । कंपनी के एमडी जावेद सिद्धिकी ने बताया की अब समय आ गया है की किसानों को ट्रेडीशनल खेती जैसे गेंहू धान दलहन तिलहन से हट कर कमर्शियल खेती पर फोकस करना चाहिए । कमर्शियल खेती मे किसान मोती की खेती , तुलसी की खेती , मूसली की खेती , एलोवेरा की खेती ब्रोकली की खेती जैसे अन्य खेती कर सकते है । वही कंपनी के निदेशक आशुतोष चतुर्वेदी ने बताया की आज से कुछ साल पहले तकरीबन 75 प्रतिशत लोग खेती कर रहे थे जो अब सिमट कर 52 प्रतिशत रह गयी है  भारत कृषि के लिए जाना जाता है ऐसे मे खेती के प्रति गिरावट एक चिंता का विषय है । खेती मे गिरावट का मुख्य कारण यह है की पारंपरिक फसलों मे मुनाफा की कमी परंतु अगर किसान व्यवसायिक खेती करता है तो कम लागत मे मोटी कमाई कर सकता है । आशुतोष चतुर्वेदी ने मोती की खेती पर प्रकाश डालते हुये यह बताया की महज 500 स्क्वायर फीट की तालाब मे खेती कर के किसान 8 से 10 लाख रुपये सालाना कमा सकता है । कंपनी के उदघाटन के वक़्त खेती के प्रति रुचि रखने वाले विभिन्न जनपदों से आए कार्यकर्ता मौजूद थे । कंपनी के दूसरे निदेशक शैलेश सिंह ने बताया की प्रतापगढ़ से दीपक शुक्ला , उन्नाव से पवन सिंह व पंकज विमल , फ़तेहपुर से जीपी मिश्रा व शिव प्रताप व आजमगढ़ से निखिल राज ने अपने जनपद मे कृषि के प्रति जागरूकता की शपथ ली ।

Loading...
Loading...

About Samar Saleel

Check Also

IPS अमिताभ ठाकुर ने ऑफिस टाइम में निजी काम से अदालतों में जाने की सूचना RTI में देने से किया मना

लखनऊ। स्टेशनरी खर्चे और सरकारी गाड़ियों की लॉग बुक्स की जानकारी आरटीआई में नहीं देने ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *