त्योहार पर जनकल्याण कार्यक्रम

त्योहारों पर अवकाश स्वभाविक है। लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और योगी आदित्यनाथ की कार्यशैली अलग है। इसमें अवकाश नहीं होता। योगी आदित्यनाथ को गोरखधाम में परम्परागत दीपावली पूजन करना था। वह गोरखपुर गए। पूजन से पहले उन्होंने सरकारी योजनाओं का शुभारंभ किया। इसके अलावा अन्य लोक कल्याण के कार्यक्रमों में शामिल हुए। यह बताया कि उनकी सरकार प्रदेश के विकास हेतु कटिबद्ध है।

उन्होंने गोरखपुर की ग्राम पंचायत तिकोनिया नम्बर तीन में वनटांगिया ग्राम के विकास हेतु लगभग छांछठ लाख की कुल नौ परियोजनाओं का शिलान्यास एवं लोकार्पण किया। चार परियोजनाओं का शिलान्यास तथा पांच परियोजनाओं का लोकार्पण किया गया। इसके अतिरिक्त उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के दस लाभार्थियों को स्वीकृति प्रमाण पत्र,पुष्टाहार योजना के दस लाभार्थियों को ड्राई राशन किट एवं बेसिक शिक्षा विभाग के अन्तर्गत प्राथमिक विद्यालय के दस विद्यार्थियों को स्वेटर एवं ड्रेस का वितरण किया।

Loading...

इस अवसर पर उन्होंने लगाये गये विभिन्न उत्पादों की प्रदर्शनी स्टाॅलों का अवलोकन किया। उन्होंने कहा कि आजादी के सत्तर साल से बुनियादी सुविधाओं से वंचित वनटांगियां गांवों में वर्तमान सरकार द्वारा पक्का मकान, शौचालय,पेंशन, मालिकाना हक, हैण्डपम्प,सड़क,बिजली आदि सुविधाएं उपलब्ध करायी गयी है। उन्होंने कहा कि सरकार सबका साथ, सबका विकास’ के भाव से कार्य कर रही है।

उन्होंने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन के तहत प्रदेश के अन्दर दो करोड़ करोड़ इकसठ लाख गरीब परिवारों को शौचालय देने का कार्य एक मिशन मोड के तहत किया गया है। इसी का परिणाम है कि इंसेफेलाइटिस बीमारी पर नियंत्रण पाया गया। प्रदेश में वर्तमान सरकार बनने के उपरान्त इंसेफेलाइटिस की समस्या के निदान के लिए लगातार कार्य किया गया।

रिपोर्ट-डॉ. दिलीप अग्निहोत्री
डॉ. दिलीप अग्निहोत्री
Loading...

About Samar Saleel

Check Also

ताकि लॉकडाउन में किए गए उनके प्रयोगों को अलग पहचान मिले…

लखनऊ। जब कोरोना महामारी ने दुनिया को हिला दिया था, छात्रों को घर पर रहने ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *