रिलायंस का दुनिया का सबसे बड़ा गैर वित्तीय कंपनी का राइट्स इश्यू 30 प्रतिशत ओवरसब्सक्राइब

नई दिल्ली। रुपये का राइट इश्यू मंगलवार को करीब 30 फीसदी ओवर सब्सक्राइब हो गया। किसी भी गैर वित्तीय कंपनी या संस्थान का पिछले 10 वर्षों में यह दुनिया का सबसे बड़ा राइट इश्यू है। शेयर बाजार से मिली जानकारी के अनुसार इस इश्यू में कंपनी ने अपने शेयरधारकों को 42.26 करोड़ शेयर ऑफर किए हैं जबकि बंद होने से एक दिन पहले दो जून तक 54.9 करोड़ शेयरों के लिए बिड मिल चुकी है। यानी रिलायंस का राइट इश्यू 1.3 गुना सब्सक्राइब हो चुका था। राइट इश्यू बुधवार तक ओपन है। निवेशकों को शेयर खरीदने का आखिरी मौका 3 जून तक मिलेगा।

Reliance Industries declared profits rs 10360 crore of financial year 2018 19 in Q4

राइट्स इश्यू के ओवरसब्सक्रिप्शन का एक ही मतलब है कि शेयरधारक अपने एंटाइटेलमेंट से अधिक शेयरों के लिए भाव लगा रहे हैं। कल राइट इश्यू में निवेश का आखिरी दिन है और सब्सक्रिप्शन की संख्या और बढ़ने की उम्मीद है। रिलायंस में 25 लाख से अधिक रिटेल शेयरधारकों के अलावा 1700 से अधिक संस्थागत शेयरधारक हैं। इनमें देशी और विदेशी दोनों तरह के संस्थान शामिल हैं।

Loading...

National मिशन फॉर क्लीन गंगा के लिए रिलायंस ने की भागीदारी

मुकेश अंबानी ने पिछले साल अगस्त में 2021 तक कर्ज में कटौती की योजना का खुलासा किया था। उसी योजना के तहत यह राइट इश्यू लाया गया है। इसके अलावा जियो प्लेटफॉर्म्स में इक्विटी बेच कर भी कर्ज को कम करने की कोशिश की जा रही है। रिलायंस की फुली ओन्ड सब्सिडरी जियो प्लेटफॉर्म्स में निवेशकों की झड़ी लगी है। अमेरीकी कंपनी फेसबुक इंक समेत 5 बड़े निवेशक जियो प्लेटफॉर्म्स में 78,562 करोड़ रु का निवेश कर चुके हैं। भारत की किसी टेक्नोलॉजी कंपनी में यह अबतक का सबसे बड़ा निवेश है। रिलायंस तीन दशकों में यह पहला राईट इश्यू लाई है और पंद्रह शेयर पर एक शेयर ऑफर किया जा रहा है।

Loading...

About Samar Saleel

Check Also

सुरक्षा नीतियों का उल्लंघन करने पर गूगल ने प्ले स्टोर से हटायी सैकड़ों पर्सनल लोन एप

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें गूगल ने भारत में सैकड़ों की संख्या में ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *