Breaking News

विद्यांत में यातायात जागरूकता कार्यक्रम आयोजित

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के यातायात विभाग के साथ विद्यांत हिंदू पीजी कॉलेज में आज यातायात जागरूकता पर एक कार्यक्रम आयोजित किया। इसका उद्देश्य युवाओं में यातायात के नियमों और विनियमों के बारे में जागरूकता पैदा करना था। कार्यक्रम का संचालन डॉ ध्रुव त्रिपाठी ने किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता वाइस प्रिंसिपल प्रो.राजीव शुक्ला ने की।

क्षेत्राधिकारी योगेश कुमार ने कहा कि हमें कानून खासकर बुनियादी कानून की जानकारी होनी चाहिए। उन्होंने भारत के नागरिक को मिले मौलिक अधिकारों की बात की, उतना ही महत्वपूर्ण मौलिक कर्तव्य है। हमें नागरिक संवेदनाओं को विकसित करना चाहिए। उन्होंने कहा कि “कानून की अज्ञानता कोई बहाना नहीं है”। उन्होंने हेल्प लाइन नं. 110 और 1090 (हेल्पलाइन महिलाओं) की जानकारी दी । पुलिस लगभग 5-10 मिनट पर उपलब्ध होगी। उन्होंने विद्यार्थियों से आपात स्थिति में ही उपयोग करने को कहा।

इंस्पेक्टर कृष्ण वीर सिंह ने यातायात नियमों की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि भारत में सड़क दुर्घटनाओं में हर साल लगभग 1.75 लाख लोगों की मौत होती है, जो हत्याओं आदि जैसी मौतों के किसी भी अन्य कारणों से बहुत अधिक है।

उन्होंने यातायात नियमों के बारे में विस्तार से बताया। उन्होंने यातायात के नियमों का उल्लंघन जैसे अनुचित पार्किंग, गाड़ी चलाते समय मोबाइल पर बात करना, रेड लाइट जंप करना, अनुचित समय में जेब्रा क्रासिंग पार करना, बाइक में हेलमेट नहीं लगाना, कार चलाते समय सीट बेल्ट नहीं लगाना आदि के बारे में विस्तार से बात की।

उन्होंने गलत और विपरीत दिशा में गाड़ी नहीं चलाने को कहा। केवल बाईं ओर ड्राइव करें। उन्होंने हेलमेट के प्रयोग पर जोर दिया, जो जीवन बचाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। शरीर के अन्य अंग ठीक हो सकते हैं, लेकिन अगर बिना हेलमेट के सिर में चोट लग जाए तो यह घातक होता है।

प्रो.राजीव शुक्ला ने #यातायात विभाग के अधिकारियों को छात्रों को मूल्यवान ज्ञान प्रदान करने के लिए धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि “गति रोमांचित करती है, लेकिन मार देती है”। उन्होंने कहा कि लापरवाही और तेजी से गाड़ी चलाने में मजा आ सकता है। लेकिन लेकिन लोगों को खासकर युवाओं को अपने परिवार के बारे में भी ध्यान रखना चाहिए, क्योंकि वे अपने परिवार की संपत्ति हैं। उन्होंने कहा कि हमें इस तरह से गाड़ी पार्क नहीं करनी चाहिए जिससे दूसरे को असुविधा हो। कार्यक्रम में डॉ अमित वर्धन, डॉ शहादत, डॉ अभिषेक, डॉ शांतनु, डॉ कौटिल्य, डॉ राजकमल गुप्ता सहित बड़ी संख्या में छात्र-छात्राएं, इंस्पेक्टर बी.एस यादव और यातायात विभाग के अन्य कर्मचारी मौजूद रहे ।

About Samar Saleel

Check Also

सीएचसी में लगा नसबंदी शिविर, शिविर में तीन दर्जन महिलाओं ने कराया पंजीकरण

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें बिधूना। सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बिधूना में शुक्रवार को ...