Breaking News

18 जून को ही क्यों मनाते हैं अंतर्राष्ट्रीय पिकनिक दिवस? जानिए इतिहास और महत्व

बचपन की कई यादों में से एक पिकनिक की याद होती है। जिसका जिक्र आते ही बच्चों से लेकर बड़े तक उत्साहित हो जाते हैं। पिकनिक मनोरंजन का एक ऐसा तरीका है, जो मौज मस्ती से भरपूर होता है।अक्सर लोग परिवार, दोस्तों या स्कूल ट्रिप पर पिकनिक के लिए जाते हैं। पिकनिक किसी भी स्थान पर मनाई जा सकती है। पिकनिक के लिए जरूरी सामान घर से ही पैक करके ले जाया जाता है। पिकनिक को लेकर लोगों के उत्साह को देखते हुए प्रतिवर्ष पिकनिक के नाम एक दिन समर्पित किया जाता है और वैश्विक स्तर पर अंतर्राष्ट्रीय पिकनिक दिवस मनाया जाता है।

लेकिन पिकनिक डे मनाने की क्या आवश्यकता है? ये दिन कब और क्यों मनाते हैं, इस बारे में जरूर जान लें।

कब मनाते हैं पिकनिक डे?

दुनियाभर में हर साल 18 जून को अंतर्राष्ट्रीय पिकनिक दिवस मनाया जाता है। इस दिन को मनाने की शुरुआत फ्रांसीसी क्रांति के दौरान हुई। उस दौर में बाहर एक प्रकार का अनौपचारिक भोजन किया जाता था।क्या

क्या है पिकनिक शब्द का अर्थ?

पिकनिक फ्रांसीसी भाषा से लिया गया शब्द है। पिकनिक का अर्थ होता है, प्रकृति के बीच बैठकर भोजन या नाश्ता करना।

पिकनिक डे का इतिहास

19वीं शताब्दी में इंग्लैंड की पिकनिक मशहूर हुई, जब सामाजिक अवसरों पर खाने की कई चीजों को शामिल किया जाता था। बाद के कुछ वर्षों में पिकनिक राजनीतिक प्रोटेस्ट के दौरान आम लोगों के बीच की गैदरिंग बन गई। गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स ने पुर्तगाल में हुआ पिकनिक को सबसे बड़ी पिकनिक के तौर पर दर्ज किया। उस कार्यक्रम में करीब 20000 लोग शामिल हुए थे।

कैसे मनाते हैं पिकनिक डे?

मौजूदा समय में पिकनिक दोस्तों और परिवार व करीबियों के साथ किसी सुंदर और आरामदायक जगह पर जाकर प्राकृतिकता के बीच मस्ती करने से है। पिकनिक को एक छोटी ट्रिप भी कह सकते हैं। इसमें खाने का सामान घर से पैक करके ले जाया जाता है। पार्क में जमीन पर चादर बिछाकर बैठकर पिकनिक का लुत्फ उठाया जाता है।

About News Desk (P)

Check Also

खाने में ज्यादा हो गई है मिर्च तो अपनाएं ये तरीके, सही हो जाएगा स्वाद

भारतीय खाना पूरे विश्व में काफी फेमस है। दूर के देशों से लोग आकर यहां ...