Breaking News

भाषा विश्विद्यालय स्वयं की प्रवेश प्रक्रिया द्वारा देगा इंजीनियरिंग में दाखिला

लखनऊ। ख्वाज़ा मोइनूद्दिन चिश्ती भाषा विश्विद्यालय के कुलपति प्रोफेसर एनबी सिंह ने छात्रों के प्रवेश सम्बन्धी नियमों की समीक्षा करते हुए नये शैक्षिक सत्र में कई परिवर्तन किये हैं। कुलपति द्वारा यह निर्णय लिया गया है कि विगत वर्षों तक जहां भाषा विश्विद्यालय की बीटेक, एमबीए और एमसीए की 50 % सीटें एकेटीयू द्वारा भरी जाती थी उनको भाषा विश्विधालय स्वयं प्रवेश प्रक्रिया द्वारा दाख़िला देगा और साथ ही साथ इन्हीं विषयों की लैटरल इंट्री पर भी यही नियम लागू होगा।

AKTU : शिक्षक दिवस पर सम्मानित होंगे शिक्षक

भाषा विश्विद्यालय स्वयं की प्रवेश प्रक्रिया द्वारा देगा इंजीनियरिंग में दाखिला

इससे उन छात्रों को प्रवेश का लाभ मिलेगा जो प्रवेश के इछुक और भाषा विश्विद्यालय में चल रही ऑनस्पॉट कॉनसीलिंग प्रक्रिया शामिल हो कर प्रवेश प्राप्त कर सकते है। इंजीनियरिंग संकाय के अधिष्ठाता प्रोफेसर संजीव त्रिवेदी ने बताया कि सीधे प्रवेश के लिए कल से छात्र विश्विधालय में प्रवेश प्राप्त कर सकते है।

पत्रकारों से जुड़ी जो भी समस्याएं आएंगी, उनका समाधान होगा: संजय प्रसाद

जिनमें सिविल, मैकेनिकल, बायो टेक्नोलॉजी, सीएस इंजीनियरिंग विथ एआई एंडमशीन लर्निंग, सिविल एंडएनवायरनमेंट इंजीनियरिंग, ऑटोमेशन एंड रोबोटिक्स इंजीनियरिंग एवं अर्तिफ़िशिअल इंटेलिजेंस एंड डाटा साइंस से सम्बंधित सीटें है।प्रवेश समन्वयक प्रो सयद हैदर अली ने बताया कि एडमिशन जेईई मैन्स एवं CUET के स्कोर पर दिया जाएगा। अतः ऐसे सभी अभ्यर्थी रिक्त सीटों के लिए, डायरेक्ट एडमिशन हेतु काउंसलिंग के लिए विश्विद्यालय को सम्पर्क कर सकते हैं। अधिक जानकारी हेतु विश्विद्यालय की वेबसाइट www.kmclu.ac.in पर सम्पर्क किया जा सकता है।

About Samar Saleel

Check Also

सावन में काशी विश्वनाथ मंदिर में पूजा-अर्चना का भी रिकॉर्ड बना गए सीएम योगी आदित्यनाथ, आप भी जानिए

वाराणसी। सावन महीने में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को तीसरी बार बाबा विश्वनाथ और ...