Breaking News

महेश भट्ट के साथ हुई WhatsApp chat के सवाल पर गुस्सा हुई रिया चक्रवर्ती, कही ये बात

पिछले दिनों रिया चक्रवर्ती और महेश भट्ट के बीच वायरल हुई वॉट्सऐप चैट को सुशांत की मौत से जोड़कर देखा जा रहा है। दरअसल, यह वायरल चैट 8 जून की रात 7:43 से 8:08 बजे के बीच तब की है, जब रिया सुशांत का घर छोड़कर जा चुकी थीं। एक इंटरव्यू में एक्ट्रेस से इन पर रिएक्शन मांगा गया तो वे गुस्सा हो गईं।

रिया ने कहा, ‘क्या मैं किसी से सलाह भी नहीं ले सकती? मैं टूट चुकी थी। मैं सुशांत से नाराज थी कि उसने मुझे वहां से जाने से रोका नहीं। उसने मुझे वापस कॉल भी नहीं किया। उसने मुझे लगभग अलग कर दिया था। मैं हैरान थी कि वह सिर्फ इसलिए मुझे जाने देना चाहता था, क्योंकि मैं बीमार थी। क्या उसके लिए सब खत्म हो चुका था। इसलिए हां मैंने भट्ट साहब को मैसेज किए थे।

मैं टूटी हुई थी। उन्होंने मुझे कहा था कि तुम अपने पिता के बारे में सोचो और जो मैं कह रहा हूं, वह सुनो। भट्ट साहब मुझे चाइल्ड बुलाते हैं। मैसेजेस में भी हैं। उनकी बेटी मेरी उम्र की है। इस पवित्र रिश्ते को गलत तरीके से पेश किया गया।’

Loading...

चैट में रिया ने आगे लिखा था- ‘मैं आगे बढ़ गई हूं।’ जवाब में भट्ट ने उन्हें पीछे मुड़कर न देखने की सलाह दी थी। इतना ही नहीं दोनों के बीच के 9 से 14 जून के चैट भी वायरल हुए थे। इनमें रिया ने महेश भट्ट का शुक्रिया अदा करते हुए लिखा था कि उन्होंने उन्हें एक बार फिर बचा लिया।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, रिया ने 8 जून को सुशांत का घर छोड़ने से पहले आईटी प्रोफेशनल को बुलाकर 8 हार्ड डिस्क से डेटा डिलीट करवाया था। लेकिन खुद रिया ने इस आरोप का खंडन किया है। उन्होंने कहा, “ये आरोप बेबुनियाद हैं। मेरी जानकारी के मुताबिक, वहां कोई हार्ड डिस्क नहीं थी। हो सकता है कि मेरे वहां से जाने के बाद सुशांत की बहन ने किसी को बुलाया हो। इस बारे में मुझे कोई जानकारी नहीं। मुझे यह भी पता नहीं कि सिद्धार्थ पिठानी ने ऐसा कुछ कहा है। मुझे लगता है कि बाकी चीजों की तरह यह भी एक मनगढ़ंत कहानी है।”

Loading...

About Aditya Jaiswal

Check Also

वर्ल्डवाइड रिकॉर्ड्स नवंबर के पहले हफ्ते से छह फिल्मों का करेगी निर्माण

भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री में पारिवारिक एवं स्वस्थ मनोरंजक फिल्मों का निर्माण कर मिसाल कायम करने ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *