बिजली विभाग से निष्कासित टीजी-2 के कर्मचारी सपा प्रमुख अखिलेश से मिलने पहुंचे

लखनऊ। बिजली टीजी-2 निष्कासित संघर्ष मोर्चा के लोग शुक्रवार को सपा कार्यालय में अपनी मांगों को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से मिलने पहुंचे थे। तीन साल तक बिजली सब स्टेशनों पर नियमित सेवा के बाद निष्कासित किए गए 603 टीजी-2 के कर्मचारी पिछले 174 दिनों से धरने पर हैं। कहीं सुनवाई न होने से निराश ये लोग अपनी पुर्नबहाली की मांग को लेकर सपा कार्यालय पर इस उम्मीद से पहुंचे थे कि सम्भवतः भुखमरी की कगार पर पहुंच चुके इन बिजली कर्मियों की मांगों को सुन लिया जाए।

इन निष्कासित बिजली कर्मियों का कहना है कि बिजली विभाग ने विज्ञापन निकालने के बाद परीक्षा कराई थी, जिसमें 603 कार्मिक सफल पाये गये थे। इन्हें ज्वाइनिंग देकर नौकरी पर रखा गया था। लेकिन बिना कोई कारण बताये अचानक इन्हें निकाल दिया गया।

संघर्ष मोर्चा संयोजक मंडल के सदस्य नन्द लाल, आशीष, विवेक गौड़, संजय शर्मा, मो. आमिर, मंसूर अहमद, मनीष मौर्य और नीरज वर्मा ने बताया कि इन कार्मिकों की बहाली के लिए सुप्रीम कोर्ट की डबल बेंच ने विभाग को निर्देश दिया है कि तीन साल तक सेवा कर चुके इन कर्मचारियों के प्रति सहानुभूति पूर्वक विचार करते हुए इनकी पुर्नबहाली की जाए।

सपा प्रमुख अखिलेश यादव से मिलने पहुंचे इन आंदोलनकारियों ने पावर कार्पोरेशन के अधिकारियों पर कोर्ट की अवहेलना करने का आरोप लगाया है।

  दया शंकर चौधरी

About Samar Saleel

Check Also

सीएम योगी ने वीरता पुरस्कार विजेताओं और वीर नारियों को किया सम्मानित

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें लखनऊ। आजादी का अमृत महोत्सव के विभिन्न पहलुओं ...