Breaking News

विधायक विनय शाक्य की पुत्री रिया को प्रत्याशी बनाने का युवा कार्यकर्ताओं ने किया विरोध

मोदी योगी से कोई बैर नहीं प्रत्याशी की खैर नहीं भाजपा से बगावत कर सपा में शामिल हुए विधायक विनय शाक्य की पुत्री रिया को प्रत्याशी बनाने का युवा कार्यकर्ताओं ने किया विरोध। भाजपा से बगावत कर सपा में शामिल में हुए विधायक विनय शाक्य की पुत्री रिया शाक्य को भाजपा द्वारा टिक दिए जाने के विरोध में आज क्षेत्र के युवाओं ने कस्बा के रामलीला मैदान में एकत्रित होकर नारेबाजी कर भाजपा प्रत्याशी को बदले जाने की मांग की।

पिता विधायक विनय शाक्य सपा में हो चुके हैं शामिल – विधायक विनय शाक्य व उनके भाई देवेश शाक्य के द्वारा भाजपा से बगावत कर स्वामी प्रसाद मौर्या के साथ सपा में शामिल हो जाने के बाद भी भाजपा द्वारा विधायक की पुत्री रिया शाक्य को टिकट दिये जाने का भाजपा के बूथ लेवल कार्यकर्ता शुरू से ही विरोध कर रहे हैं। रामलीला मैदान में भीड़ एकत्रित सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस कुछ युवाओं को हिरासत में लेकर कोतवाली ले गयी।

नारेबाजी कर प्रत्याशी का किया विरोध – आज भाजपा के पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के सहार मंडल अध्यक्ष कौशल राजपूत लालू, बिधूना मंडल अध्यक्ष रिंकू पाल, राजीव वार्मा कोहराई, प्रधान पुत्र बीरू सिंह, भाजपा के पूर्व मंडल अध्यक्ष ऐरवाकटरा रोहित तिवारी, पुष्पेन्द्र कुशवाह, हरवीर सिंह आदि के नेतृत्व में करीब एक सैकड़ा युवा रामलीला मैदान में एकत्रित हो भाजपा के घोषित प्रत्याशी को बदले जाने की मांग को लेकर प्रदर्शन करते हुए ‘‘मोदी योगी से कोई बैर नहीं, प्रत्याशी की खैर नहीं’’ ‘‘हारेगी भाई हारेगी रियाा शाक्य हरेगी’’ नारे लगा जमकर विरोध किया।

पुलिस कुछ युवकों को ले गई कोतवाली – इस दौरान किसी के द्वारा सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस कुछ युवकों को हिरासत में लेकर थाने ले गयी। युवाओं ने कहा कि पार्टी कार्यकार्ता होने के नाते पार्टी द्वारा लिए गये निर्णय का विरोध करना उनका मौलिक अधिकार है।

पुलिस ने तीन युवकों का शांति भंग में किया चालान – भाजपा से बगावत कर सपा में शामिल हुए विधायक विनय शाक्य की पुत्री रिया शाक्य को बिधूना क्षेत्र से भाजपा का प्रत्याशी बनाए जाने का विरोध कर रहे युवा कार्यकर्ताओं को रोकते हुए पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए तीन युवकों का पुलिस ने शांति भंग के आरोप में चालान कर दिया है।
भाजपा से बगावत कर भाई देवेश शाक्य समेत सपा में शामिल हुए भाजपा के बागी विधायक विनय शाक्य की पुत्री रिया शाक्य को भाजपा द्वारा टिकट दिए जाने का कस्बा के रामलीला मैदान में विरोध कर रहे भाजपा के तीन युवा कार्यकर्ताओं को हिरासत में लेकर पुलिस कोतवाली ले गयी थी।

इस दौरान युवा कार्यकर्ताओं को छुड़वाने के लिए कोतवाली पहुंचे भाजपा नेता गोविन्द सिंह भदौरिया की पुलिस बहस भी हुई। कोतवाली में तैनात दरोगा महेन्द्र सिंह भदौरिया द्वारा यह कहे जाने पर कि युवकों ने शांति भंग का प्रयास किया है इसलिए इनका चालान होगा। जिस पर भाजपा नेता भदौरिया ने कहा कि तो तीन युवकों का ही चालान क्यों किया जा रहा है। यहां पर मौजूद सभी युवकों ने विरोध प्रदर्शन कर शांति भंग का प्रयास किया था, तो इनके सभी के साथ मेरा भी चालान कर दो। इसके बाद पुलिस ने सभी का चालान करने से मना करते हुए तीन युवा कार्यकर्ताओं विकास, शैलू व अभिषेक का शांति भंग में चालान करने के बाद जमानत पर रिहा कर दिया गया।

About Samar Saleel

Check Also

खेसारीलाल के बाद अब पंजाबी क्वीन शिप्रा गोयल, लिजेंड पंजाबी सिंगर बब्बू मान के साथ मचाएंगी धमाल

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें इस म्यूजिक ट्रैक में शिप्रा गोयल ने न ...