Breaking News

उत्तर प्रदेश विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना, मिलेगी फ्री ट्रेनिंग और आर्थिक मदद

उत्तर प्रदेश विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना 2022 सभी परम्परागत कारीगरों के विकास और स्वरोजगार को बढ़ावा देने के लिए शुरू की गई है। इस योजना के तहत ऑनलाइन पंजीकरण शुरू कर दिए गए हैं। इसमें पंजीकरण करवाने वाले पारंपरिक कारीगरों व दस्तकारों को अपने हुनर को और ज्यादा निखारने के लिए 6 दिन की फ्री ट्रेनिंग दी जाएगी, जिसका पूरा खर्च राज्य सरकार उठाएगी।

सफल प्रशिक्षण के बाद कारीगरों के ट्रेड से संबंधित ,आधुनिकतम तकनीकी पर आधारित उन्नत किस्म की टूल किट दी जाएगी। इसके साथ ही स्थानीय दस्तकारों तथा पारंपरिक कारीगरों को छोटे उद्योग स्थापित करने के लिए 10 हजार से लेकर 10 लाख रुपये तक की आर्थिक सहायता भी उपलब्ध कराई जाएगी।

जरूरी दस्तावेज
– आधार कार्ड
– कुशल कारीगर श्रेणी का प्रमाण पत्र
– बैंक पासबुक की कॉपी
– निवास, रिहायसी प्रमाण-पत्र
– पासपोर्ट साइज़ फोटो

पात्रता
– आयु 18 वर्ष या अधिक हो।
– उत्तर प्रदेश के निवासी हों।
– शैक्षिक योग्यता अनिवार्य नहीं है।
– पारंपरिक कारीगरी जैसे बढ़ई, दर्जी, टोकरी बुनकर, नाई, सुनार, लोहार, कुम्हार, हलवाई, मोची अथवा दस्तकारी व्यवसाय से जुड़े हों।
– जाति आधार नहीं होगा। किसी भी जाति के रजिस्टर करें।
– एक परिवार से कोई भी सदस्य केवल एक बार ही योजना के लिए आवेदन करने के लिए पात्र होगा। परिवार का अर्थ पत्ति एवं पत्नी से है।
– पिछले 2 वर्षों में आवेदक ने केंद्र सरकार या राज्य सरकार से टूलकिट के संबंध में कोई लाभ प्राप्त नहीं किया हो।

ऑनलाइन पंजीकरण कैसे करें
– आधिकारिक पोर्टल https://diupmsme.upsdc.gov.in/ पर जाएं।
– लॉग इन पर क्लिक करें।
– नवीन उपयोगकर्ता पंजीकरण पर क्लिक कर फॉर्म भरकर रजिस्टर करें।
– सब्मिट पर क्लिक कर प्रक्रिया पूरी करें।

About News Room lko

Check Also

परिवार से दूर रहकर काम-धंधे के साथ बीमारी को मात देना कठिन पर असम्भव नहीं- बलिराम कुमार खैरवार

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें • प्रवासी कामगार बलिराम की मानो बात- लक्षण ...