भारतीय सैनिकों की शहादत पर पूर्व सैनिकों में दिखी नाराजगी, कैंडिल जलाकर दी श्रद्धांजलि

बिधूना। गलवान घाटी में चीनी सैनिकों द्वारा की गई हिंसक झड़प में भारतीय सैनिकों की शहादत और चीन की कायरतापूर्ण हरकत के कारण भारत के लोगो ने चीन को सबक सिखाने का निर्णय लिया है। साथ ही चीनी सामान को खरीदने का पुरजोर बिरोध किया है। पूर्व सैनिकों ने शहीद भगत सिंह की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर कैंडिल जलाई। गुरुवार की देर शाम को पूर्व सैनिकों ने कस्बे के भगत सिंह चौराहे पर शहीद भगत सिंह के चित्र पर माल्यार्पण कर शहीदों की याद में केंडिल जलाकर भारत माता की जय बोली।

पूर्व सैनिक समाज सेवा समिति के अध्यक्ष रमेश बाबू चौहान ने कहा कि अनेकों वर्षों से भारत की सीमा पर चीन बार-बार घुसपैठ करने का प्रयास कर रहा है, चीन की इस नापाक हरकत का मुंहतोड़ जवाब देना चाहिए, कहा कि चीन की इस नापाक हरकत के कारण हमारे जवानों की जाने गयी है इन जवानों की सहादत खाली नही जाएगी।
पूर्व कैप्टन ओमप्रकाश चौहान ने कहा कि चीन के साथ जो व्यापारिक संबंध हैं उनको अति शीघ्र खत्म कर स्वदेशी अपनाए। और कहा कि हम सभी देशवासियों को चीन के सामान का बहिष्कार करे और स्वदेशी अपनाकर देश को मजबूत करे। कहा कि चीन के मोबाइल एप्प टिकटोक का सभी लोगो को बहिष्कार करना चाहिए । भगत सिंह चौराहे पर पूर्व सैनिकों ने शहीद हुए सैनिकों को श्रद्धांजलि दी व 2 मिनट का मौन रखकर उनकी मृत आत्मा की शांति के लिए शोक संवेदना व्यक्त।

Loading...

इस मौके पर पूर्व सैनिक समाज सेवा के अध्यक्ष रमेश बाबू चौहान, पूर्व कैप्टन ओमप्रकाश चौहान, राजकुमार वर्मा, अवधेश सिंह कुशवाह, फोरन सिंह पाल, राजेन्द्र सिंह कुशवाह, इन्द्रपाल सिंह सेंगर,साधौ सिंह पाल, शैलेन्द्र सिंह, धरम सिंह भदौरिया, लाखन सिंह चौहान,जसरान सिंह पाल ,राजकुमार सिंह चौहान, प्रबल प्रताप सिंह सेंगर, जगदीश सिंह चौहान, कोमल सिंह सेंगर, धीरेंद्र सिंह जादौन, नारायण सिंह कुशवाह, राजवीर कुमार त्रिपाठी, शिवकुमार भदौरिया, गजेंद्र सिंह पंवार, रामस्वरूप, आछेलाल, अरुणकुमार शुक्ल,अशोक कुमार, मुन्नालाल बर्मा, प्रदीप सिंह कुशवाह आदि पूर्व सैनिकों ने शोक संवेदना व्यक्त कर चीनी सामान का पुरजोर विरोध किया।

रिपोर्ट-अनुपमा सेंगर

Loading...

About Samar Saleel

Check Also

यूपी के गोरखपुर में ड्यूटी से गैर हाजिर रहकर पुलिस वाले करते थे लूट, पूरा थाना हुआ सस्पेंड

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में सराफा व्यवसायी से ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *